1. हिन्दी समाचार
  2. नेपाल में फंसे 1069 भारतीयों की सोनौली सीमा से हुई एंट्री

नेपाल में फंसे 1069 भारतीयों की सोनौली सीमा से हुई एंट्री

Entry Of 1069 Indians Stranded In Nepal From Sonoli Border

By Editor-Vijay Chaurasiya 
Updated Date

विदेश मंत्रालय की पहल पर नेपाल में फंसे भारतीय नागरिक बुधवार को बड़ी संख्या में सोनौली आए। शाम तक 1069 लोगों की एंट्री करा दी गई थी जबकि नो मेंस लैंड पर 700 लोग मौजूद थे। इमीग्रेशन कार्यालय परिसर में एंट्री के लिए लगी भीड़ छंटने के बाद इन लोगों को एंट्री दी जाएगी। इन लोगों की एंट्री और स्क्रीनिंग के लिए प्रशासनिक अमला जुटा रहा।

पढ़ें :- जावड़ेकर ने दिल्ली हिंसा पर कहा : सीएए की तरह कांग्रेस किसानों को उकसा रही है

मंगलवार से भारतीय नागरिकों का भारत में आने का क्रम शुरू हुआ है। मंगलवार को 492 लोगों के आना था, जिनमें से 171 लोग आए थे। बुधवार की शाम तक 1069 लोगों को एंट्री दी गई। इमीग्रेशन में एंट्री के बाद शाम सात बजे तक 230 लोगों को बसों से उनके जिले में भेजा जा चुका था। देर शाम तक एंट्री के लिए लोगों की भीड़ इमीग्रेशन परिसर में लगी थी। इसी बीच नो मेंस लैंड पर भारत में प्रवेश के लिए 700 लोग पहुंच गए थे, लेकिन इमीग्रेशन परिसर में जगह नहीं होने के कारण इनको वहीं रोक दिया गया था।

इमीग्रेशन कार्यालय पर मेडिकल जांच के साथ सेल्फ डिक्लियरेशन फार्म भरवाया जा रहा है। परिचय पत्र भी जमा कराया जा रहा है। परिचय पत्र न होने की दशा में किसी रिश्तेदार या मित्र का मोबाइल नंबर मांगा जा रहा है।

यूपी के साथ बिहार और पश्चिम बंगाल के भी हैं लोग
बुधवार को आए 1069 लोगों में से उत्तर प्रदेश के अलावा 111 बिहार और 70 पश्चिम बंगाल के रहे। इमीग्रेशन में एंट्री के बाद भोजन कराकर रोडवेज की बसों से महराजगंज, गोरखपुर, पडरौना, गोंडा, बस्ती, देवरिया, लखीमपुर, सीतापुर, कानपुर आदि जगहों पर लोगों को भेजा जा रहा है। ये सभी लोग होम क्वारंटीन रहेंगे।

पढ़ें :- दिल्ली हिंसा पर कांग्रेस ने की गृह मंत्री को बर्खास्त करने की मांग

जसधीर सिंह, एसडीएम,नौतनवा ने बताया बुधवार की शाम तक 230 लोगों को उनके जिलों में भेज दिया गया था। कुल 1069 लोगों की एंट्री हो चुकी है। बाकी को रात में ही भेज दिया जाएगा। जबकि नो मेंस लैंड पर मौजूद 700 लोगों को नौतनवा में क्वारंटीन किया जाएगा और गुरुवार की सुबह सोनौली इमीग्रेशन लाकर एंट्री व जांच कराकर उनके जिलों में रवाना किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...