1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. EOW ने नियुक्ति एवं कार्मिक विभाग के प्रमुख सचिव से आईएएस डॉ.हरिओम की गिरफ्तारी की मांगी अनुमति

EOW ने नियुक्ति एवं कार्मिक विभाग के प्रमुख सचिव से आईएएस डॉ.हरिओम की गिरफ्तारी की मांगी अनुमति

बलिया जिले में हुए करीब 20 करोड़ के खाद्यान्न घोटाले में आईएएस डॉ. हरिओम भी आरोपी बनाए गए हैं। बता दें कि जिस दौरान घोटाला हुआ था उस वक्त डॉ. हरिओम यहां बतौर सीडीओ तैनात थे। भुगतान की अंतिम सहमति इनके अलावा तीन अन्य सीडीओ ने किया था।

By संतोष सिंह 
Updated Date

बलिया। बलिया जिले में हुए करीब 20 करोड़ के खाद्यान्न घोटाले में आईएएस डॉ. हरिओम भी आरोपी बनाए गए हैं। बता दें कि जिस दौरान घोटाला हुआ था उस वक्त डॉ. हरिओम यहां बतौर सीडीओ तैनात थे। भुगतान की अंतिम सहमति इनके अलावा तीन अन्य सीडीओ ने किया था। तत्कालीन सीडीओ अश्विनी श्रीवास्तव, राममूर्ति राम और दीनानाथ पटवा के खिलाफ भी कार्रवाई की अनुमति मांगी गई है।

पढ़ें :- IILM 17th Academy Convocation 2022 : प्रो. मनोज दीक्षित ने मेधावियों को दिया मंत्र 'पढ़ें, कमाएं और लौटाऐं'

बता दें कि तीन दिन पहले पूर्व ब्लाक प्रमुख समेत तीन आरोपितों की हुई गिरफ्तारी के बाद मामला और गरमा गया है। अब आईएएस डॉ. हरिओम समेत तीन अन्य तत्कालीन सीडीओ को गिरफ्तार करने की अनुमति ईओडब्ल्यू ने नियुक्ति एवं कार्मिक विभाग के प्रमुख सचिव से मांगी है।

इसके लिए अनुस्मारक-पत्र भेजा गया है। इसी क्रम में बिहार पुलिस को भी पत्र लिखा गया है, क्योंकि जिला ग्राम्य विकास अभिकरण (डीआरडीए) के तत्कालीन सीडीओ वित्त एवं लेखाधिकारी समेत सात अफसर व कर्मचारी अवकाश प्राप्त होने के बाद बिहार के मुधबनी व सिवान जिले में रह रहे हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...