यूरोपीय सांसदों की टीम ने PM मोदी और अजित डोभाल से की मुलाकात, कल करेंगे कश्मीर का दौरा

pm modi
यूरोपीय सांसदों की टीम ने PM मोदी और अजित डोभाल से की मुलाकात, कल करेंगे कश्मीर का दौरा

नई दिल्ली। यूरोपियन संसद का प्रतिनिधिमंडल सोमवार को पीएम मोदी और राष्ट्री सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल से मुलाकात की। इस मुलाकात में जम्मू कश्मीर को लेकर बात हुई। इसके साथ ही वहां के मौजूदा स्थिति को लेकर भी चर्चा हुई। यूरोपियन संसद का प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को जम्मू-कश्मीर का भी दौरा करेगा।

European Parliament Mps Meet Pm Modi And Ajit Doval To Visit Kashmir Tomorrow :

5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद किसी विदेशी प्रतिनिधिमंडल का ये पहला कश्मीर दौरा होगा। वहीं, अनुच्छेद 370 के राज्य से हटने के बाद से ही यह विषय दुनिया भर में चर्चा का मुद्दा बना हुआ है। दूसरी ओर पाकिस्तान की तरफ से भी यह मामला लगातार उठाया जाता रहा है।

इसी बीच यूरोपियन प्रतिनिधिमंडल का यह दौरा काफी महत्वपूर्ण है। जम्मू-कश्मीर जाने वाले यूरोपियन संसद के प्रतिनिधिमंडल में कुल 28 सदस्य होंगे। अभी तक भारत की ओर से किसी भी विदेशी प्रतिनिधिमंडल को जम्मू-कश्मीर जाने की इजाजत नहीं दी गई थी। उधर, मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय से बयान भी जारी किया गया।

जिसमें कहा गया है कि, यूरोपीय सांसदों का भारत के कल्चर को जानना काफी खुशी का विषय है। PM मोदी ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि जम्मू-कश्मीर समेत भारत के कई हिस्सों में दल का दौरा काफी सफल होगा, इस दौरान उन्हें भारत के कल्चर, यहां चल रहे विकास कार्यों के बारे में जानने का मौका मिलेगा।

नई दिल्ली। यूरोपियन संसद का प्रतिनिधिमंडल सोमवार को पीएम मोदी और राष्ट्री सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल से मुलाकात की। इस मुलाकात में जम्मू कश्मीर को लेकर बात हुई। इसके साथ ही वहां के मौजूदा स्थिति को लेकर भी चर्चा हुई। यूरोपियन संसद का प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को जम्मू-कश्मीर का भी दौरा करेगा। 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद किसी विदेशी प्रतिनिधिमंडल का ये पहला कश्मीर दौरा होगा। वहीं, अनुच्छेद 370 के राज्य से हटने के बाद से ही यह विषय दुनिया भर में चर्चा का मुद्दा बना हुआ है। दूसरी ओर पाकिस्तान की तरफ से भी यह मामला लगातार उठाया जाता रहा है। इसी बीच यूरोपियन प्रतिनिधिमंडल का यह दौरा काफी महत्वपूर्ण है। जम्मू-कश्मीर जाने वाले यूरोपियन संसद के प्रतिनिधिमंडल में कुल 28 सदस्य होंगे। अभी तक भारत की ओर से किसी भी विदेशी प्रतिनिधिमंडल को जम्मू-कश्मीर जाने की इजाजत नहीं दी गई थी। उधर, मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय से बयान भी जारी किया गया। जिसमें कहा गया है कि, यूरोपीय सांसदों का भारत के कल्चर को जानना काफी खुशी का विषय है। PM मोदी ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि जम्मू-कश्मीर समेत भारत के कई हिस्सों में दल का दौरा काफी सफल होगा, इस दौरान उन्हें भारत के कल्चर, यहां चल रहे विकास कार्यों के बारे में जानने का मौका मिलेगा।