1. हिन्दी समाचार
  2. श्रीनगर पहुंचा यूरोपीय यूनियन का दल, राज्यपाल से करेेंगे मुलाकात, घाटी की जमीनी हालात का लेंगे जायजा

श्रीनगर पहुंचा यूरोपीय यूनियन का दल, राज्यपाल से करेेंगे मुलाकात, घाटी की जमीनी हालात का लेंगे जायजा

By शिव मौर्या 
Updated Date

European Union Team Reaches Srinagar Will Meet Governor Will Review The Ground Situation Of The Valley

नई दिल्ली। यूरोपीय यूनियन दल के 28 सांसद जम्मू कश्मीर के दौरे पर पहुंचे हैं। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद विदेशी दल का ये पहला घाटी दौरा है। यह दल राज्यपाल, स्थानीय अधिकारियों और निवासियों से मुलाकात करेंगे। इसके अलावा श्रीनगर की मशहूर डल झील का भी दौरा करेंगे। सोमवार को यूरोपीय दल पीएम मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से मुलाकात की थी।

पढ़ें :- प्रियंका गांधी का योगी सरकार पर बड़ा आरोप, बोलीं- लखनऊ सहित कई शहरों में छिपाए जा रहे हैं मौत के आंकड़े

इस दौरान जम्मू-कश्मीर के मसले पर बात हुई। वहीं यूरोपीय सांसदों के दौरे को लेकर सियासत तेज हो गयी है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, राहुल गांधी समेत कई कांग्रेसी नेता केंद्र सरकार पर हमला कर चुके हैं। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने केंद्र सरकार पर निशना साधते हुए एक ट्वीट किया।

उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि, ‘कश्मीर में यूरोपियन सांसदों को सैर-सपाटा और हस्तक्षेप की इजाजत लेकिन भारतीय सांसदों और नेताओं को पहुंचते ही हवाई अड्डे से वापस भेजा गया! बड़ा अनोखा राष्ट्रवाद है यह!!’ वहीं, AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने तंज कसते हुए लिखा कि यूरोपियन पार्लियामेंट के सांसद जो इस्लामोफोबिया के शिकार हैं उनका चुनाव किया गया है, ऐसे लोग मुस्लिम बहुल घाटी जा रहे हैं।

ओवैसी ने दल में शामिल सांसदों को नाजी लवर भी बताया है। ओवैसी ने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए मशहूर गाने का जिक्र किया है। वहीं, बीजेपी नेता ब्रह्मण्यम स्वामी ने कहा कि मैं हैरान हूं कि विदेश मंत्रालय ने यूरोपीय यूनियन के सांसदों के निजी दौरे की व्यवस्था की है। यह आधिकारिक दौरा नहीं है। यह हमारी नीति के खिलाफ है। सरकार को तुरंत यह दौरा रद्द कर देना चाहिए।

वहीं, राहुल गांधी ने कहा कि, जम्मू और कश्मीर के दौरे पर जाने के लिए यूरोप के सांसदों का स्वागत किया जाता है, जबकि भारतीय सांसदों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया जाता है। इसमें बहुत कुछ गलत है।

पढ़ें :- नदी में तैरते शव मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग सख्त, केंद्र, बिहार और यूपी को भेजा नोटिस

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X