1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. 2017 से पहले भी यूपी के लिए योजनाएं आतीं थी लेकिन लखनऊ में उनमें रोड़ा लग जाता था : पीएम मोदी

2017 से पहले भी यूपी के लिए योजनाएं आतीं थी लेकिन लखनऊ में उनमें रोड़ा लग जाता था : पीएम मोदी

वाराणसी पहुंचे पीएम मोदी लोगों को संबोधित कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने कहा कि शहर में जगह-जगह लग रही बड़ी-बड़ी LED स्क्रीन्स और घाटों पर लग रहे टेक्नॉलॉजी से लैस इन्फॉर्मेशन बोर्ड, ये काशी आने वालों की बहुत मदद करेंगे। पीएम ने कहा कि, काशी के इतिहास, वास्तु, शिल्प, कला, ऐसी हर जानकारी को आकर्षक तरीके से प्रस्तुत करने वाली ये सुविधाएं श्रद्धालुओं के काफी काम आएंगी।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Even Before 2017 There Were Schemes For Up But In Lucknow They Used To Be A Hindrance Pm Modi

वाराणसी। वाराणसी पहुंचे पीएम मोदी लोगों को संबोधित कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने कहा कि शहर में जगह-जगह लग रही बड़ी-बड़ी LED स्क्रीन्स और घाटों पर लग रहे टेक्नॉलॉजी से लैस इन्फॉर्मेशन बोर्ड, ये काशी आने वालों की बहुत मदद करेंगे। पीएम ने कहा कि, काशी के इतिहास, वास्तु, शिल्प, कला, ऐसी हर जानकारी को आकर्षक तरीके से प्रस्तुत करने वाली ये सुविधाएं श्रद्धालुओं के काफी काम आएंगी।

पढ़ें :- बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने कहा कि हम किसान हैं, गुंडे नहीं , गुंडे वे हैं जिनके पास कुछ नहीं है

बड़ी स्क्रीन्स के माध्यम से गंगा जी के घाट पर और काशी विश्वनाथ मंदिर में होने वाली आरती का प्रसारण पूरे शहर में संभव हो पाएगा। पीएम ने कहा कि, उत्तर प्रदेश, देश के अग्रणी इन्वेस्टमेंट डेस्टिनेशन के रूप में उभर रहा है। कुछ साल पहले तक जिस यूपी में व्यापार-कारोबार करना मुश्किल माना जाता था, आज मेक इन इंडिया के लिए यूपी पसंदीदा जगह बन रहा है।

इसके साथ ही पीएम ने कहा कि देश में आधुनिक कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए जो एक लाख करोड़ रुपए का विशेष फंड बनाया गया है, उसका लाभ अब हमारी कृषि मंडियों को भी मिलेगा। ये देश की कृषि मंडियों के तंत्र को आधुनिक और सुविधा संपन्न बनाने की तरफ एक बड़ा कदम है। पीएम ने कहा कि, काशी और पूरे यूपी के विकास के इतने सारे कामों की चर्चा मैं इतनी देर से कर रहा हूँ, लेकिन ये लिस्ट इतनी लंबी है कि इतनी जल्दी खत्म नहीं होगी।

.जब समय का अभाव होता है तो मुझे भी कई बार सोचना पड़ता है कि यूपी के कौन से विकास कार्यों की चर्चा करूँ, कौन से कार्यों को छोड़ू। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि, ऐसा नहीं है कि 2017 से पहले यूपी के लिए योजनाएं नहीं आती थीं, पैसा नहीं भेजा जाता था। तब भी दिल्ली से इतने ही तेज प्रयास होते थे। लेकिन तब लखनऊ में उनमें रोड़ा लग जाता था। आज योगी जी खुद कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

 

पढ़ें :- नई दिल्ली से कटरा तक वंदे भारत एक्सप्रेस सेवा बहाल, मोदी सरकार ने प्रतिबद्धता पूरी की : जितेन्द्र सिंह

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X