1. हिन्दी समाचार
  2. हर घर को मिलेगी 24 घंटे बिजली, सीएम योगी ने किया 28 विद्युत उपकेंद्रों का लोकार्पण एवं शिलान्यास

हर घर को मिलेगी 24 घंटे बिजली, सीएम योगी ने किया 28 विद्युत उपकेंद्रों का लोकार्पण एवं शिलान्यास

Every House Will Get 24 Hours Electricity Cm Yogi Inaugurates And Lays Foundation Of 28 Power Substations

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अब हर घर को 24 घंटे बिजली मिलेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने आवास पर आयोजित एक कार्यक्रम में 26 जिलों के लिए 28 विद्युत उपकेंद्रों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (COVID-19) संकट के दौरान भी उत्तर प्रदेश पावर कार्पोरेशन (UPPCL) द्वारा ₹3,135.34 करोड़ की लागत से विद्युत उपकेंद्रों की एक श्रंखला प्रदेश की जनता को आज अर्पित की जा रही है।

पढ़ें :- नवनीत सहगल को मिली सूचना विभाग की कमान, अवनीश अवस्थी से लिया गया वापस

वहीं, इस दौरान उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम से जुड़े सभी को हृदय से बधाई देता हूं। सीएम योगी ने कहा कि ऊर्जा विभाग ने पिछले 3 वर्षों में एक बेहतर कार्य—संस्कृति को आगे बढ़ाकर, ऊर्जा विभाग के प्रति आमजन के विश्वास को सुदृढ़ करने में सफलता प्राप्त की है। सीएम ने कहा कि कोरोना संकट के दौरान पिछले ढाई महीनों में बगैर लॉकडाउन से प्रभावित हुए विद्युत की आपूर्ति सुनिश्चित करने में यूपी पावर कारपोरेशन ने सफलता प्राप्त की है। सामान्यतः पूरे प्रदेश में विद्युत वितरण की स्थिति इस दौरान शानदार रही है।

प्रसन्नता है कि आज प्रदेश सरकार द्वारा ₹1,881.78 करोड़ की लागत से जिन परियोजनाओं को पूरा किया गया है, उनका लोकार्पण कार्यक्रम सम्पन्न हो रहा है। वहीं ₹1,253.56 करोड़ की लागत से नई योजनाओं के शिलान्यास का कार्यक्रम सम्पन्न हो रहा है। सीएम योगी ने कहा कि ‘सबको बिजली और हरदम बिजली’ के लक्ष्य को लेकर हम निरंतर कार्य कर रहे हैं। व्यापक सुधार की कार्रवाई को आगे बढ़ाने के लिए प्रदेश सरकार निरंतर प्रयासरत है।

उन्होंने कहा कि यूपी में 1 करोड़ 24 लाख से अधिक ऐसे परिवारों को निःशुल्क विद्युत कनेक्शन उपलब्ध कराया गया, जिनके लिए आजादी के बाद से बिजली को देखना तक दूभर था। न केवल विद्युत कनेक्शन दिए गए, बल्कि इसके लिए लगभग पौने 2 लाख मजरों तक विद्युतीकरण के कार्य का विराट लक्ष्य भी प्राप्त किया गया। उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालयों में 23 से 24 घंटे विद्युत आपूर्ति, तहसील मुख्यालयों में 20 से 21 घंटे की विद्युत आपूर्ति, ग्रामीण क्षेत्र में 17 से 18 घंटे विद्युत आपूर्ति, बुंदेलखंड क्षेत्र में 20 से 21 घंटे तक विद्युत आपूर्ति का संकल्प हो।

इन जिलों को मिला लाभ
सरकार के इस कदम से चित्रकूट, महोबा, बलरामपुर, उन्नाव, लखनऊ, सुल्तानपुर, अमेठी, प्रयागराज, बलिया, गोरखपुर, बस्ती, फिरोजाबाद, कानपुर, मथुरा, आगरा, मेरठ, गाजियाबाद और मुजफ्फरनगर में विद्युत व्यवस्था मजबूत होगी। वहीं ₹1,253.56 करोड़ की लागत से नई योजनाओं के शिलान्यास का कार्यक्रम सम्पन्न हो रहा है। उससे मऊ, शामली, बरेली, लखीमपुर, लखनऊ, जौनपुर, बदायूं, गौतमबुद्धनगर में नए बिजली उपकेंद्र बनेंगे।

पढ़ें :- हाथरस केस को लेकर बीजेपी विधायक ने राज्यपाल को लिखा पत्र, कहा-डीजीपी-डीएम-एसएसपी पर चले हत्या का केस

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...