रिटायर्ड फौजी रहम की भीख मांगता रहा, दबंगों ने पीट—पीट कर उतार दिया मौत के घाट

ex army man murder
रिटायर्ड फौजी रहम की भीख मांगता रहा, दबंगों ने पीट—पीट कर उतार दिया मौत के घाट
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के गोसाईगंज इलाके में सोमवार रात दबंगों ने एक रिटायर्ड फौजी को पीट—पीट कर मौत के घाट उतार दिया। परिजनों के मुताबिक उसका शाम को दबंगों के किसी बात को लेकर मामूली विवाद हो गया था, जिसके बाद पड़ोसियों ने समझाबुझा कर मामला शांत करा दिया। इसके कुछ देर बाद ही करीब आधा दर्जन दबंगों ने रिटायर्ड फौजी पर हमला बोल दिया। दबंग उसे लाठी—डण्डों से पीटते रहे और पीड़ित उनसे रहम की भीख…

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के गोसाईगंज इलाके में सोमवार रात दबंगों ने एक रिटायर्ड फौजी को पीट—पीट कर मौत के घाट उतार दिया। परिजनों के मुताबिक उसका शाम को दबंगों के किसी बात को लेकर मामूली विवाद हो गया था, जिसके बाद पड़ोसियों ने समझाबुझा कर मामला शांत करा दिया। इसके कुछ देर बाद ही करीब आधा दर्जन दबंगों ने रिटायर्ड फौजी पर हमला बोल दिया।

दबंग उसे लाठी—डण्डों से पीटते रहे और पीड़ित उनसे रहम की भीख मांगता रहा। इसके बाद भी दबंगों का दिल नहीं पसीजा और उसे करीब आधे घंटे तक पीटने रहे। जब वो बेहोश हो गया तो सभी वहां से फरार हो गए। घटना की जानकारी परिजनों को मिली तो वो मौके पर पहुंचे और गंभीर रूप से घायल रिटायर्ड फौजी को लेकर अस्पताल पहुंचे, लेकिन तब तक उसकी सांसे थम चुकी थी।

{ यह भी पढ़ें:- झोपड़ियों में लगी भीषण आग, मासूम की जलकर मौत }

जानकारी के मुताबिक, गोसाईंगंज के बस्तिया गांव में सेवानिवृत्त फौजी रामदेव वर्मा (45) का परिवार रहता है। परिजनों के मुताबिक सोमवार रात रामदेव का गांव में ही रहने वाले कुछ दबंग युवकों से किसी बात को लेकर विवाद हो गया था, बात बढ़ी तो ग्रामीणों नें सभी को समझाबुझाकर शांत करा बदया। लेकिन इसके करीब एक घंटे बाद रामदेव कही जा रहा था, तभी दबंगों ने उसे घेर लिया और लाठी—डण्डो से पीटने लगे।

 

{ यह भी पढ़ें:- लड़की बनकर पहले लोगों को फंसाता, फिर दरोगा बनकर ऐंठ लेता था रकम }

लहुलूहान होने के बाद रामदेव दबंगों से रहम की भीख मांगता रहा, लेकिन उन लोगों को दिल नहीं पसीजा। इस बीच रामदेव बेहोश हो गया, तो दबंग उसे मरा समझकर वहां से भाग निकले। बाद में घटना की सूचना रामदेव के परिजनों को मिली तो वो मौके पर पहुंचे और घायल को लेकर सीएचसी पहुंचे, लेकिन तब तक रामदेव की मौत हो चुकी थी। घटना की भनक पुलिस को लगी तो वो मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वही पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश शुरु कर दी हैं।

Loading...