पूर्व कैबिनेट सचिव सुब्रमणियन का निधन, रक्षामंत्री ने ट्वीट कर व्यक्त किया दुख

पूर्व कैबिनेट सचिव सुब्रमणियन का निधन, रक्षामंत्री ने ट्वीट कर व्यक्त किया दुख
पूर्व कैबिनेट सचिव सुब्रमणियन का निधन, रक्षामंत्री ने ट्वीट कर व्यक्त किया दुख

नई दिल्ली। पूर्व कैबिनेट सचिव टी.एस.आर सुब्रमणियन का सोमवार को निधन हो गया। वह 79 वर्ष के थे। सुब्रमणियन के बेटे ने आईएएनएस से इस खबर की पुष्टि की। सुब्रमणियन उत्तर प्रदेश कैडर के 1961 बैच के अधिकारी थे। वह अगस्त 1996 से मार्च 1998 तक कैबिनेट सचिव पद पर रहे। कैबिनेट सचिव के रूप में सुब्रमणियन सरकार के सर्वाधिक वरिष्ठ नौकरशाह थे। उनके निधन को बुरी खबर बताते हुए भारतीय प्रशासनिक अधिकारी (आईएएएस) संघ ने ट्वीट कर कहा, “वह सबसे बेहतर थे और उनका निधन आईएएस जगत और देश के लिए बहुत बड़ी क्षति है।”

Ex Cabinet Secretary Tsr Subramanian Is Died :

संघ ने कहा, “परिवार के सभी सदस्यों के प्रति गहरी संवेदनाएं। हमें उम्मीद है और हम प्रार्थना करते हैं कि उनके विचार और सिद्धांत हमारा हमेशा मार्गदर्शन करते रहेंगे।” उनका अंतिम संस्कार शाम 5.30 बजे लोधी रोड स्थित शमशान घाट में किया जाएगा। उन्होंने राजनीतिक हस्तक्षेप से नौकरशाही को बचाने की दिशा में कड़ी मेहनत की। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी और केंद्रीय कार्मिक राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने भी उनके निधन पर शोक जताया।

सीतारमण ने कहा, “उनके निधन की खबर से दुखी हूं। वह मिलनसार, मृदुभाषी, विवेकशील और ऊर्जावान थे। टीवी चैनलों की कई चर्चाओं में उनके साथ विचार साझा किए। उनके परिवार और आईएएस समुदाय के प्रति सहानुभूति।”

स्मृति ईरानी ने ट्वीट कर कहा, “टी.एस.आर. सुब्रमणियन के निधन की खबर से स्तब्ध हूं। कई नीतिगत मामलों में उनका मार्गदर्शन मिलना सौभाग्य रहा।”

वहीं जितेंद्र प्रसाद ने ट्वीट कर कहा, “पूर्व कैबिनेट सचिव के निधन से दुखी हूं। पूरी आईएएस बिरादरी और उनके परिवार के साथ पूरी सहानुभूति है।”

नई दिल्ली। पूर्व कैबिनेट सचिव टी.एस.आर सुब्रमणियन का सोमवार को निधन हो गया। वह 79 वर्ष के थे। सुब्रमणियन के बेटे ने आईएएनएस से इस खबर की पुष्टि की। सुब्रमणियन उत्तर प्रदेश कैडर के 1961 बैच के अधिकारी थे। वह अगस्त 1996 से मार्च 1998 तक कैबिनेट सचिव पद पर रहे। कैबिनेट सचिव के रूप में सुब्रमणियन सरकार के सर्वाधिक वरिष्ठ नौकरशाह थे। उनके निधन को बुरी खबर बताते हुए भारतीय प्रशासनिक अधिकारी (आईएएएस) संघ ने ट्वीट कर कहा, "वह सबसे बेहतर थे और उनका निधन आईएएस जगत और देश के लिए बहुत बड़ी क्षति है।"

संघ ने कहा, "परिवार के सभी सदस्यों के प्रति गहरी संवेदनाएं। हमें उम्मीद है और हम प्रार्थना करते हैं कि उनके विचार और सिद्धांत हमारा हमेशा मार्गदर्शन करते रहेंगे।" उनका अंतिम संस्कार शाम 5.30 बजे लोधी रोड स्थित शमशान घाट में किया जाएगा। उन्होंने राजनीतिक हस्तक्षेप से नौकरशाही को बचाने की दिशा में कड़ी मेहनत की। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी और केंद्रीय कार्मिक राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने भी उनके निधन पर शोक जताया।सीतारमण ने कहा, "उनके निधन की खबर से दुखी हूं। वह मिलनसार, मृदुभाषी, विवेकशील और ऊर्जावान थे। टीवी चैनलों की कई चर्चाओं में उनके साथ विचार साझा किए। उनके परिवार और आईएएस समुदाय के प्रति सहानुभूति।" स्मृति ईरानी ने ट्वीट कर कहा, "टी.एस.आर. सुब्रमणियन के निधन की खबर से स्तब्ध हूं। कई नीतिगत मामलों में उनका मार्गदर्शन मिलना सौभाग्य रहा।" वहीं जितेंद्र प्रसाद ने ट्वीट कर कहा, "पूर्व कैबिनेट सचिव के निधन से दुखी हूं। पूरी आईएएस बिरादरी और उनके परिवार के साथ पूरी सहानुभूति है।"