डोनाल्ड ट्रंप एक माफिया स्टाइल का बॉस है, जो सिर्फ झूठ बोलता है : पूर्व FBI चीफ 

डोनाल्ड ट्रंप , पूर्व FBI चीफ
डोनाल्ड ट्रंप एक माफिया स्टाइल का बॉस है, जो सिर्फ झूठ बोलता है: पूर्व FBI चीफ 
वॉशिंगटन। अमेरिकी खुफिया एजेंसी FBI के पूर्व निर्देशक जेम्स कोमी ने अपनी नई किताब में राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप को लेकर कई दावे किए हैं जिससे विवाद पैदा होने की आशंका जाहिर की जा रही है। कोमी ने अपनी एक नई किताब में कहा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उन्हें एक माफिया बॉस की याद दिला दी है, जो अपने मातहतों से पूरी वफादारी की उम्मीद करता है। इसके बाद दावा किया गया था कि कोमी को राष्ट्रपति ट्रंप ने धमकाया…
वॉशिंगटन। अमेरिकी खुफिया एजेंसी FBI के पूर्व निर्देशक जेम्स कोमी ने अपनी नई किताब में राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप को लेकर कई दावे किए हैं जिससे विवाद पैदा होने की आशंका जाहिर की जा रही है। कोमी ने अपनी एक नई किताब में कहा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उन्हें एक माफिया बॉस की याद दिला दी है, जो अपने मातहतों से पूरी वफादारी की उम्मीद करता है। इसके बाद दावा किया गया था कि कोमी को राष्ट्रपति ट्रंप ने धमकाया था। कोमी ने कहा था कि उन्हें इसलिए बर्खास्त किया गया ताकि चुनावों में रूस के हस्तक्षेप की जांच के तरीके को बदला जा सके।

कोमी ने ट्रंप को एक मौन सर्किल को अनुमति देने वाला बताया है, जिनके अनुसार व्हाइट हाउस में जब मीटिंग होती है तो सिर्फ राष्ट्रपति बोलता ही जाता है, बाकि सब चुप रहते हैं। तीन राष्ट्रपतियों के साथ काम कर चुके कोमी ने कहा कि ओवल ऑफिस में ऐसा राष्ट्रपति कभी नहीं देखा।

अमेरिकी मीडिया में लीक हुए किताब के अंश के मुताबिक ट्रंप उस कथित विडियो को लेकर भी डरे हुए हैं जिसमें मॉस्को के होटल रूम में कॉल गर्ल्स ने बिस्तर पर पेशाब कर दिया था। बताया जा रहा है कि इन कॉल गर्ल्स को ट्रंप ने बुलाया था।‘ए हायर लॉयल्टी : ट्रूथ , लाइ ऐंड लीडरशिप ’ शीर्षक वाली इस पुस्तक का आधिकारिक रूप से अगले मंगलवार को विमोचन किया जाएगा।

{ यह भी पढ़ें:- अमेरिका ने सीरिया के खिलाफ युद्ध छेड़ा, ट्रंप के आदेश के बाद अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने दागे मिसाइल }

‘वॉशिंगटन पोस्ट’ की खबर के मुताबिक कोमी ने कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति एक अलग ही दुनिया में रहते हैं , जिसमें उन्होंने बाकियों को भी लाने की कोशिश की। कोमी ने कहा है कि ट्रंप को सही और गलत में फर्क नहीं पता है। उन्होंने कहा कि यह राष्ट्रपति अनैतिक है और सच्चाई एवं संस्थागत मूल्यों से बंधा नहीं है।

{ यह भी पढ़ें:- अपहृत बच्चों की तलाश में अमरीका के साथ मिलकर काम करेगा भारत }

Loading...