पूर्व पति ने खोला राज, बलात्कारी बाबा के बेडरूम तक था हनी की प्रीत का असर

पूर्व पति ने खोला राज
पूर्व पति ने खोला राज, बलात्कारी बाबा के बेडरूम तक था हनी की प्रीत का असर

नई दिल्ली। देशद्रोह के मामले में हरियाणा पुलिस की पकड़ से दूर नजर आ रही हनीप्रीत इंसा के खिलाफ शुक्रवार को उसके पूर्व पति विश्वास गुप्ता ने प्रेस कांफ्रेंस कर बड़ा खुलासा किया है। यह खुलासा यूं तो नया नहीं है लेकिन सो​शल मीडिया पर पहले से वॉयरल हो रही हनीप्रीत और गुरमीत राम रहीम की सुनी सुनाई कहानी को पुख्ता जरूर करता है।

गुरुवार को बड़े ही नाटकीय ढ़ंग से सामने आए विश्वास गुप्ता ने अपने परिवार की डेरा के प्रति आस्था और हनीप्रीत के साथ अपने वैवाहिक जीवन का वह सच सामने रखने की कोशिश की जो उनका वकील पहले भी मीडिया के सामने रखने का काम कर चुके हैं। हालांकि इस बार विश्वसनीयता कुछ ज्यादा थी क्योंकि इस बार कहानी सुनाने वाला एक पीड़ित और शोषित आम आदमी था। जिसने कभी अपनी पत्नी और उसे गोद लेकर पिता बनने वाले धर्मगुरू को रंगेहाथों पकड़ा था, वो भी ऐसी जगह जहां परिंदा भी पर नहीं मार सकता था।

{ यह भी पढ़ें:- 2016 के जाट आंदोलन के दौरान मुरथल में हुए थे नौ गैंग रेप }

विश्वास गुप्ता ने मीडिया के सामने बताया कि किस तरह से गुरमीत राम रहीम ने उसकी पत्नी को पूरी तरह से अपने चुंगल में लेकर उसे मानसिक और शारीरिक रूप से तबाह कर दिया था। किस तरह से उसे अपना दामाद बनाकर गुरमीत राम रहीम अपनी एशगाह में अपनी ही मुंहबोली बेटी के साथ अय्याशी करता रहा। किस तरह से हनीप्रीत ने बाबा के करीब जाने के बाद अपने पति को अपना टट्टू बनाकर रखा था।

विश्वास ने जिस तरह के खुलासे मीडिया के सामने किए उससे यह लगता है कि गुरमीत राम रहीम के बाद हनीप्रीत ही डेरा में सर्वेसर्वा थी। हनी की प्रीत में गुरमीत कुछ इस तरह से फंस चुका था कि वह उसके बिना एक पल नहीं बिता सकता था। डेरा में हो या फिर कहीं बाहर बाबा हनीप्रीत के बिना न तो कहीं जाता था और न ही कहीं ठहरता था।

{ यह भी पढ़ें:- जल्दबाजी में महिला टॉयलेट में जा घुसे राहुल गांधी, तस्वीरें वायरल }

अपने खुलासे में विश्वास ने यह भी बताया ​है कि किस तरह से गुरमीत ने विश्वास को उसकी पत्नी से अलग रखने के लिए प्रपंच रचे थे। विश्वास के मुताबिक बाबा ने उसे व्यस्त करने के लिए डेरा के कारोबारों की जिम्मेदारी उसे सौंप दी थी। जिस वजह से वह दिन भर डेरा के कामों में फंसा रहता था। उस पर नजर रखने के लिए डेरा के सुरक्षाकर्मी हमेशा उसके साथ रहते थे। बाबा की गाड़ियां उसे डेरा से घर और घर से डेरा लाने का काम करतीं थीं।

गुरमीत राम रहीम ने अपने और हनीप्रीत के रिश्ते की भनक विश्वास को लगने के बाद उसे डराने और धमकाने के लिए क्या—क्या हथकंडे अपनाए इन सब बातों का खुलासा विश्वास ने अपनी प्रेस कांफ्रेंस के जरिए किया। मीडिया के सामने आप बीती सुनाते हुए विश्वास कई बार भावुक भी हुए और अपनी जान के लिए खतरे की दुहाई भी देते नजर आए। उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले पर पिछले 25 दिनों से हिम्मत बटोरने के बाद वह मीडिया के सामने आने को तैयार हुए थे।

{ यह भी पढ़ें:- आखिरकार पुलिस की सख्ती के आगे हनीप्रीत ने टेक दिये घुटने, उगले कई राज }