1. हिन्दी समाचार
  2. मेरे धैर्य की परीक्षा ले रहा है प्रशासन,अन्याय के विरोध में होगा आंदोलन-मुन्ना सिंह  

मेरे धैर्य की परीक्षा ले रहा है प्रशासन,अन्याय के विरोध में होगा आंदोलन-मुन्ना सिंह  

Examining My Patience Administration Will Be Opposed To Injustice Munna Singh

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

महराजगंज::अन्याय अत्याचार के विरोध में होगा विशाल आंदोलन प्रशासन मेरे धैर्य की परीक्षा न ले उक्त बातें रविवार को नौतनवा स्थित कुंवर आवास पर समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक नौतनवा कुंवर कौशल उर्फ मुन्ना सिंह ने कहां कि पुलिस ने सत्ता पक्ष के दबाव पर मेरे विरुद्ध झूठी तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया |

पढ़ें :- Birthday special: कॉमेडियन के तौर पर जावेद ने बनाई थी अपनी पहचान, ऐसे शुरू कर दी राजनीति

जबकि घटना की जानकारी मुझे ही नहीं है। जिस व्यक्ति को मेरे द्वारा मारने पीटने का आरोप है उसको कुछ वर्ष पहले एक सड़क दुर्घटना में उसे सड़क से उठाकर अस्पताल पहुंचाया और उसकी जान बचाई थी ।

ईद के दिन सोनौली कस्बे के राम जानकी चौक पर घटनास्थल बताया गया है । उसकी जांच करा ली जाए वहां किसी तरह का कोई विवाद नहीं हुआ कोई भी व्यक्ति बता सकता है।

श्री सिंह ने कहा की सोनौली पुलिस अपने कृत्यों को छिपाने के लिए सत्तापक्ष के इशारे पर कार्य कर रही है। सोनौली में खुलेआम भरे बाजार में स्टैंड लगवाना ।

भारत से नेपाल जाने वाले ट्रकों से टोकन लेना जिन्हें मुद्रा टोकन कहते हैं। इतना ही नहीं नौतनवा पुलिस की गुंडई चरम पर है। वह जमीनों का विवाद ढूंढ रही है, और गुंडई के बदौलत कब्जे दिलाने का प्रयास कर रही है। मारपीट कर लोगों से सुलह समझौते कराए जा रहे हैं ।

पढ़ें :- कोरोना वैक्सीन को लेकर पीएम मोदी ने कहीं ये बड़ी बातें...जानिए

नौतनवा, सोनौली, पुरंदरपुर पुलिस की गुंडई चरम पर है। नौतनवा में जहां पुलिस की शह पर खुलेआम नेपाली शराब चाय और पान ठेले वालों की दुकानों पर बिक रहा है।

वही नर्सरी के चौराई टोले पर पुलिस और आबकारी विभाग के छत्रछाया में कच्ची शराब की भटिया धधक रहे हैं । अभी सत्ता पक्ष के लोगों द्वारा एक दुकानदार को पीटकर बुरी तरह घायल कर दिया गया लेकिन पुलिस ने एनसीआर दर्ज दर्ज कर मामलों के इतिश्री में जुटी हुई है।

श्री सिंह ने कहा कि मोदी सरकार का सबका साथ सबका विकास का स्लोगन मिथ्या बन गया है। यहां पुलिस राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। उन्होंने कहा कि नेता या प्रशासन मुझे पहले वाला मुन्ना बनने के लिए विवश न करें और प्रशासन मेरे धैर्य की परीक्षा ना ले ।

उन्होंने यह भी कहा कि इन मुद्दों को लेकर प्रदेश के मुख्य सचिव से मिलेंगे और पुलिसिया उत्पीड़न बंद नहीं हुआ तो जन आंदोलन छेड़ने के लिए बाध्य होंगे।

रिपोर्ट-विजय चौरसिया

पढ़ें :- भारतीय नौसेना निडर होकर हमारे तटों की रक्षा करती है : पीएम मोदी

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...