1. हिन्दी समाचार
  2. अनलॉक 1 से मिले अनुभव, भविष्य की नीतियाँ बनाने में सहायत करेगी: प्रधानमंत्री

अनलॉक 1 से मिले अनुभव, भविष्य की नीतियाँ बनाने में सहायत करेगी: प्रधानमंत्री

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

Experience From Unlock 1 Will Help In Making Future Policies Pm

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सभी राज्यों के मुख्य मंत्रियों के साथ बैठक करने वाले है. इस बैठक के पहले दिन यानी मंगलवार को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘अनलॉक 1 को 2 सप्ताह बीत चुके हैं, इस दौरान हमारा अनुभव भविष्य में हमारे लिए फायदेमंद हो सकता है. आज मुझे आपसे जमीनी हकीकत का पता चलेगा, आपके सुझावों से भविष्य की रणनीति का पता लगाने में मदद मिलेगी.’

पढ़ें :- कांग्रेस की बागी विधायक अदिति सिंह ने कहा- पार्टी से टिकट मांगना मेरा विशेषाधिकार

अन्य देशों की तुलना में भारत की स्थिति बेहतर
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा पिछले कुछ हफ्तों में, ‘हजारों भारतीय विदेश से भारत लौटे और सैकड़ों प्रवासी कामगार अपने घरेलू शहरों में पहुँचे। परिवहन के लगभग सभी साधनों ने परिचालन फिर से शुरू कर दिया है, फिर भी कोरोना का प्रभाव भारत में दुनिया के अन्य हिस्सों में उतना बड़ा नहीं है.’

हमारी रिकवरी दर 50 प्रतिशत से अधिक
पीएम ने कहा, ‘भारत में रिकवरी दर 50% से अधिक हो गई है.’ उन्होंने कहा, ‘हमारे लिए 1 भारतीय की मृत्यु भी अनिश्चित है, लेकिन यह भी सच है कि भारत उन देशों में से एक है, जहां #COVID19 के कारण कम से कम मौतें हुई हैं.’

मास्क या फेस कवर के बीना ना निकले
नरेंद्र मोदी ने कहा, मास्क या फेस कवर के बिना बाहर निकलने के बारे में सोचना भी सही नहीं है. ‘दो गज की दुरी’, हाथ धोने और सफाई करने वालों के उपयोग का अत्यधिक महत्व है. बाजारों के खुलने और बाहर निकलने के साथ, ये सावधानियां और भी महत्वपूर्ण हैं.’

सहकारी संघवाद के उदाहरण के रूप में कार्य किया
आगे बोलते हुए कहा, ‘जब भविष्य में #COVID19 के खिलाफ भारत की लड़ाई का विश्लेषण किया जाएगा, तो यह समय इस बात के लिए याद किया जाएगा कि हमने एक साथ कैसे काम किया और सहकारी संघवाद के उदाहरण के रूप में कार्य किया.’

पढ़ें :- WTCF: फाइनल में जीत दर्ज करने के लिए न्यूजीलैंड ने खेला बड़ा दांव

जीतना कोरोना को रोकेंगे उतनी जल्दी अर्थव्यवस्था खुलेगी
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘पिछले कुछ हफ्तों में किए गए प्रयासों के कारण, हरे रंग की शूटिंग हमारी अर्थव्यवस्था में दिखाई देने लगी है.’ उन्होंने कहा, ‘हमें इस बात का हमेशा ध्यान रखना है कि हम कोरोना को जितना रोक पाएंगे, उतना ही हमारी अर्थव्यवस्था खुलेगी, हमारे दफ्तर खुलेंगे, मार्केट खुलेंगे, ट्रांसपोर्ट के साधन खुलेंगे, और उतने ही रोजगार के नए अवसर भी बनेंगे.’

राहुल ने लद्दाख में भारतीय सेना के अधिकारी और दो जवानों के श्हीद होने पर पीड़ा जतायी

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X