औरतों की चाल बताती है शारीरिक संबंधों में संतुष्टि

एक शोध में यह दावा किया गया है कि यौन क्रिया करने के बाद अक्सर लड़कियों की चाल में बदलाव आ जाता है। महिलाओं के चलने के तरीकों को देखकर उनके यौवन से जुडी गुप्त बातों को आसानी से जाना जा सकता है। यह बात कोई मजाक नहीं बल्कि इस विषय पर गहन शोध किया गया है। जिसमें उनके चाल को देखकर यह पता लगाया गया है कि उस महिला के साथ पहले कभी शारीरिक सम्बंध बनाया हुआ है या नहीं।

Explains The Tricks Of Women Satisfaction In Physical Relationships :

सेक्सोलौजिस्ट ने शोध दौरान कुछ महिलाओं का विडियो देखने के साथ ही उनसे इस मुद्दे पर पूछ-ताछ करके उनके इस राज का पता लगाया है। बेल्जियन के अनुसार महिलाओं के पहली बार शारीरिक सम्बंध बनाने के बाद से ही इनके पैरो की स्थिति में थोड़ा परिवर्तन आ जाता है। जो कि इनके चलने के बाद साफ देखा जा सकता है।

इस विषय पर रिसर्च के बाद यह बात सामने आई कि जिन महिलाओं ने पहले कभी शारीरिक सम्बंध बनाया हुआ है। वो बहुत ही आसानी से फ्री होकर चल लेती है जबकि जिन महिलाओं ने कभी सेक्स नहीं किया है। उन्हें चलने में काफी दिक्कतें आतीं है। क्योंकि सेक्सोलौजिस्ट के अनुसार इनके शरीर का कुछ मांसल हिस्सा ढीला नहीं हो पाता है। जो की इन्हें चलने पर तकलीफ और दर्द देता है।

एक शोध में यह दावा किया गया है कि यौन क्रिया करने के बाद अक्सर लड़कियों की चाल में बदलाव आ जाता है। महिलाओं के चलने के तरीकों को देखकर उनके यौवन से जुडी गुप्त बातों को आसानी से जाना जा सकता है। यह बात कोई मजाक नहीं बल्कि इस विषय पर गहन शोध किया गया है। जिसमें उनके चाल को देखकर यह पता लगाया गया है कि उस महिला के साथ पहले कभी शारीरिक सम्बंध बनाया हुआ है या नहीं। सेक्सोलौजिस्ट ने शोध दौरान कुछ महिलाओं का विडियो देखने के साथ ही उनसे इस मुद्दे पर पूछ-ताछ करके उनके इस राज का पता लगाया है। बेल्जियन के अनुसार महिलाओं के पहली बार शारीरिक सम्बंध बनाने के बाद से ही इनके पैरो की स्थिति में थोड़ा परिवर्तन आ जाता है। जो कि इनके चलने के बाद साफ देखा जा सकता है। इस विषय पर रिसर्च के बाद यह बात सामने आई कि जिन महिलाओं ने पहले कभी शारीरिक सम्बंध बनाया हुआ है। वो बहुत ही आसानी से फ्री होकर चल लेती है जबकि जिन महिलाओं ने कभी सेक्स नहीं किया है। उन्हें चलने में काफी दिक्कतें आतीं है। क्योंकि सेक्सोलौजिस्ट के अनुसार इनके शरीर का कुछ मांसल हिस्सा ढीला नहीं हो पाता है। जो की इन्हें चलने पर तकलीफ और दर्द देता है।