अलगाववादियों के खेल का खुलासा, आतंक फैलाने के लिए हाफिज से लेते थे करोड़ों

algavvadi
अलगाववादियों के खेल का खुलासा, आतंक फैलाने के लिए हाफिज से लेते थे करोड़ों

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के चीफ और अलगाववादी नेता यासीन मलिक को लेकर एनआईए ने बड़ा खुलासा किया है। एनआईए ने जांच रिपोर्ट में दावा किया है कि कि यासीन मलिक को पाक के एक आतंकी संगठन से कश्मीर में आतंक फैलाने के लिए करोड़ों का फंड मिलता था। यह फंड यासीन मलिक और शब्बीर अहमद शाह समेत 5 बड़े अलगाववादी नेताओं को मिलता था। यह पैसा सीधे लश्कर-ए-तैयबा के चीफ हाफिज सईद की ओर से दिया जाता था।

Expose The Game Of Separatists :

एनआईए की पूछताछ में यासीन मलिक, आसिया अंद्राबी, शब्बीर अहमद शाह, मशरत आलम और राशिद इंजीनियर ने बताया कि उन्हें कश्मीर में आतंक फैलाने के लिए हाफिज सईद से फंड मिलता है। एनआईए अब यूएपीए कानून के तहत इन लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करेगी। एनआईए ने अपनी 214 पेज की रिपोर्ट में बताया कि कश्मीर में आतंकियों को फंडिंग करने और पत्थरबाजी के लिए पैसा जुटाने के पुख्ता सबूत हैं।

यह सारे खुलासे जेकेएलएफ चीफ की डिजिटल डायरी से हुए हैं। एनआईए के पास सभी अलगाववादी नेताओं के खिलाफ हाफिज सईद से कश्मीर में आतंकियों को फंडिंग करने और पत्थरबाजी के लिए पैसा जुटाने के पुख्ता सबूत हैं। एपआईए को इस बात की भी जानकारी है कि किसे किस वक्त कितना पैसा पहुंचाया गया। रिपोर्ट के मुताबिक यासीन मलिक ने जहूर वताली की मदद से 2015-16 में 15 लाख रुपए हवाला के जरिए हाफिज सईद से लिए थे।

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के चीफ और अलगाववादी नेता यासीन मलिक को लेकर एनआईए ने बड़ा खुलासा किया है। एनआईए ने जांच रिपोर्ट में दावा किया है कि कि यासीन मलिक को पाक के एक आतंकी संगठन से कश्मीर में आतंक फैलाने के लिए करोड़ों का फंड मिलता था। यह फंड यासीन मलिक और शब्बीर अहमद शाह समेत 5 बड़े अलगाववादी नेताओं को मिलता था। यह पैसा सीधे लश्कर-ए-तैयबा के चीफ हाफिज सईद की ओर से दिया जाता था। एनआईए की पूछताछ में यासीन मलिक, आसिया अंद्राबी, शब्बीर अहमद शाह, मशरत आलम और राशिद इंजीनियर ने बताया कि उन्हें कश्मीर में आतंक फैलाने के लिए हाफिज सईद से फंड मिलता है। एनआईए अब यूएपीए कानून के तहत इन लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करेगी। एनआईए ने अपनी 214 पेज की रिपोर्ट में बताया कि कश्मीर में आतंकियों को फंडिंग करने और पत्थरबाजी के लिए पैसा जुटाने के पुख्ता सबूत हैं। यह सारे खुलासे जेकेएलएफ चीफ की डिजिटल डायरी से हुए हैं। एनआईए के पास सभी अलगाववादी नेताओं के खिलाफ हाफिज सईद से कश्मीर में आतंकियों को फंडिंग करने और पत्थरबाजी के लिए पैसा जुटाने के पुख्ता सबूत हैं। एपआईए को इस बात की भी जानकारी है कि किसे किस वक्त कितना पैसा पहुंचाया गया। रिपोर्ट के मुताबिक यासीन मलिक ने जहूर वताली की मदद से 2015-16 में 15 लाख रुपए हवाला के जरिए हाफिज सईद से लिए थे।