1. हिन्दी समाचार
  2. Facebook अकाउंट को हैक होने से बचाएं, अपनाएं ये नये टिप्स

Facebook अकाउंट को हैक होने से बचाएं, अपनाएं ये नये टिप्स

Facebook Account Ko Huck Hone Se Bachaye Apnaye Ye Naye Teeps

By विपिन यादव 
Updated Date

नई दिल्ली। facebook इस वक्त दुनिया का सबसे पॉप्युलर सोशल नेटवर्किंग प्लैटफॉर्म है। दुनियाभर के करोड़ों लोग इसके जरिए अपने फ्रेंड्स और फैमिली से जुड़े रहते हैं। वहीं पिछले कुछ समय में डेटा लीक और हैकिंग के मामलों ने फेसबुक की सिक्यॉरिटी और प्रिवेसी पॉलिसी पर सवाल जरूर खड़े कर दिए हैं और यूजर्स को इस प्लैटफॉर्म पर सुरक्षा और प्राईवेसी की चिंता होने लगी है।

पढ़ें :- महिलाओं की ये 9 खूबियां जो पुरूषों को आती हैं बहुत ही पंसद, जानिए

फेसबुक ने अब अकाउंट्स की सेफ्टी के लिए यूजर्स को कुछ बेहद खास टूल्स उपलब्ध कराने शुरू कर दिए हैं, इसकी मदद से आप समझ सकते हैं कि क्यों आपको किसी खास तरह के ही पोस्ट ज्यादा दिख रहे हैं। फेसबुक ऐसे पोस्ट्स को कम करने के लिए कुछ शॉर्टकट्स देता है जिससे की यूजर्स अपने न्यूज फीड को अपनी पसंद के पोस्ट्स के लिए न्यूज फीड को पर्सनलाइज कर सकते हैं।

लॉगइन के लिए टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन

फेसबुक यूजर्स के लिए एक खास तरह का सिक्यॉरिटी फीचर लेकर आया है जिससे आप पासवर्ड के अलावा भी फेसबुक अकाउंट को और सेफ बना सकते हैं। यह फीचर है टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन। अगर आप इस फीचर को ऐक्टिवेट करते हैं तो जब कोई गलत तरीके से आपके अकाउंट में लॉगइन करने की कोशिश करेगा तो आपके पास एक स्पेशल लॉगइन कोड आएगा जिसे एंटर कर आपको कन्फर्म करना होगा कि वह लॉगइन आपके द्वारा या आपकी जानकारी में हो रहा है।

फेसबुक डेटा को मैनेज करें

पढ़ें :- सैमसंग का ये फोन मिल रहा है बेहद सस्ते में, शानदार ​फीचर के साथ ये हैं खूबियां

यह नया प्राईवेसी शॉर्टकट यूजर्स को एक मेन्यू देता है जहां वे कुछ टैप के जरिए अपने डेटा को कंट्रोल कर सकते हैं। साथ ही फेसबुक यह भी बताता है कि नया शॉर्टकट आपके डेटा को कैसे कंट्रोल करेगा। फेसबुक पर अब यूजर्स को अडवांस कंट्रोल ऑप्शन मिलने लगे हैं जहां यूजर यह तय कर सकते हैं फेसबुक कैसे और कहां यूजर के डेटा का इस्तेमाल करेगा। यूजर्स अपने लोकेशन डेटा को मैनेज करने के साथ ही फेसबुक पर अपलोड होने वाले कॉन्टैक्ट्स, फेस रेकॉग्निशन सेटिंग, ऐड प्रेफरेंस जैसी चीजों को मैनेज कर सकते हैं।

ऐप्स के डेटा को सीमित करें

इस फीचर से फेसबुक ने दूसरे ऐप्स के द्वारा रिक्वेस्ट किए जाने वाले डेटा को कम करने की कोशिश की है। ये ऐप्स अभी केवल यूजर के प्रोफाइल फोटो, नाम और ईमेल अड्रेस को ऐक्सेस कर सकते हैं। इसके अलावा किसी और जानकारी के लिए इन्हें पहले फेसबुक अकाउंट होल्डर की परमिशन लेनी होगी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...