चीनी राष्ट्रपति के नाम के गलत अनुवाद पर Facebook ने मांगी माफी

china
चीनी राष्ट्रपति के नाम के गलत अनुवाद पर Facebook ने मांगी माफी

नई दिल्ली। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) की म्यांमार यात्रा के दौरान फेसबुक (Facebook) पर उनके नाम का बर्मी भाषा से अंग्रेजी में हुए गलत अनुवाद के लिए फेसुबक ने शनिवार को माफी मांगी है। म्यांमार की राजधानी नेपीता की शी जिनपिंग की दो दिवसीय यात्रा किसी चीनी नेता की दो दशकों में पहली यात्रा है।  

Facebook Apologizes For Incorrect Translation Of Chinese Presidents Name :

म्यांमार के फेसबुक पेज पर स्वत: अनुवाद व्यवस्था में शी जिनपिंग (Xi Jinping) के नाम का गलत अनुवाद हो गया था, जिससे विवाद पैदा हो गया। फेसबुक पोस्ट में बर्मी भाषा से अंग्रेजी में हुए अनुवाद में शी जिनपिंग का नाम ‘मिस्टर शिटहोल’’ लिखा आ गया था।

जिनपिंग को लिखा ‘शिटहोल’

म्यांमार की नेता आंग सान सू ची के आधिकारिक फेसबुक पेज पर सबसे अधिक त्रुटि देखी गई। शनिवार को पहले पोस्ट की गई एक अनुवादित घोषणा में कहा गया, ‘चीन के राष्ट्रपति मिस्टर शिटहोल शाम चार बजे पहुंचे हैं।’ उसमें आगे लिखा गया, ‘चीन के राष्ट्रपति श्री शिटहोल ने प्रतिनिधि सभा के एक अतिथि दस्तावेज पर हस्ताक्षर किए।’

Facebook ने मांगी माफी

फेसबुक ने कहा कि यह खेदजनक है और एक तकनीकी गड़बड़ी के कारण ऐसा हुआ है। फेसबुक के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘हमने तकनीकी गड़बड़ी को ठीक कर दिया है, जिसमें शी जिनपिंग का नाम फेसबुक पर गलत अनुवाद हो गया था।’  

नई दिल्ली। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) की म्यांमार यात्रा के दौरान फेसबुक (Facebook) पर उनके नाम का बर्मी भाषा से अंग्रेजी में हुए गलत अनुवाद के लिए फेसुबक ने शनिवार को माफी मांगी है। म्यांमार की राजधानी नेपीता की शी जिनपिंग की दो दिवसीय यात्रा किसी चीनी नेता की दो दशकों में पहली यात्रा है।   म्यांमार के फेसबुक पेज पर स्वत: अनुवाद व्यवस्था में शी जिनपिंग (Xi Jinping) के नाम का गलत अनुवाद हो गया था, जिससे विवाद पैदा हो गया। फेसबुक पोस्ट में बर्मी भाषा से अंग्रेजी में हुए अनुवाद में शी जिनपिंग का नाम ‘मिस्टर शिटहोल’’ लिखा आ गया था। जिनपिंग को लिखा ‘शिटहोल’ म्यांमार की नेता आंग सान सू ची के आधिकारिक फेसबुक पेज पर सबसे अधिक त्रुटि देखी गई। शनिवार को पहले पोस्ट की गई एक अनुवादित घोषणा में कहा गया, ‘चीन के राष्ट्रपति मिस्टर शिटहोल शाम चार बजे पहुंचे हैं।’ उसमें आगे लिखा गया, ‘चीन के राष्ट्रपति श्री शिटहोल ने प्रतिनिधि सभा के एक अतिथि दस्तावेज पर हस्ताक्षर किए।’ Facebook ने मांगी माफी फेसबुक ने कहा कि यह खेदजनक है और एक तकनीकी गड़बड़ी के कारण ऐसा हुआ है। फेसबुक के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘हमने तकनीकी गड़बड़ी को ठीक कर दिया है, जिसमें शी जिनपिंग का नाम फेसबुक पर गलत अनुवाद हो गया था।'