Facebook के बॉस जुकरबर्ग को बड़ा झटका, एक दिन में गवाये 6.06 अरब डॉलर

Facebook के बॉस जुकरबर्ग को बड़ा झटका, एक दिन में गवाये 6.06 अरब डॉलर
Facebook के बॉस जुकरबर्ग को बड़ा झटका, एक दिन में गवाये 6.06 अरब डॉलर

नई दिल्ली। फेसबुक में डेटा लीक का मामला सामने आने से पूरी दुनिया हैरान है। करोड़ों यूजर्स के डेटा लीक मामले में फेसबुक को भी तगड़ा झटका लगा है। सोमवार को इस अमेरिकी सोशल मीडिया के शेयर करीब 7 फीसदी टूट गए और कंपनी के मार्केट वैल्यू में करीब 35 अरब डॉलर तक की गिरावट आ गई।

Facebook Boss Zuckerberg Lost Trillions Of Rupees In One Day :

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में किया डाटा लीक

अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प की मदद करने वाली एक फर्म ‘कैम्ब्रिज एनालिटिका’ पर लगभग 5 करोड़ फेसबुक यूजर्स के निजी जानकारी चुराने के आरोप लगे हैं। इस जानकारी को चुनाव के दौरान इस्तेमाल किया गया है। खबर आने पर अमेरिकी और यूरोपीय सांसदों ने फेसबुक इंक से जवाब मांगा। वे जानना चाहते हैं कि ब्रिटेन की कैंब्रिज एनालिटिका ने डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव जीतने में किस तरह से मदद की?

कुछ मिनटों में गवां दिए अरबों डॉलर

यूरोप और अमेरिका के सांसदों ने यूजर्स का डाटा लीक करने के मामले में मार्क जुकरबर्ग को पेश होने के लिए कहा है। शेयर की कीमत घटने की वजह से फेसबुक सीईओ मार्क जुकरबर्ग को एक दिन में 6.06 अरब डॉलर (करीब 395 अरब रुपये) का झटका लग गया।

फेसबुक पहले ही यह बता चुका है कि 2016 में अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से पहले उसके प्लेटफॉर्म का, प्रचार-प्रसार करने वाले रूसी लोगों ने कैसे इस्तेमाल किया था, लेकिन इसे लेकर जकरबर्ग कभी सवालों के घेरे में नहीं आए थे। इस मामले से सोशल नेटवर्किंग साइट्स के सख्त रेग्युलेशन का दबाव भी बन सकता है। ब्रिटेन के एक सांसद ने सोमवार को कहा कि देश के प्राइवेसी वॉचडॉग को अधिक ताकत मिलनी चाहिए।

नई दिल्ली। फेसबुक में डेटा लीक का मामला सामने आने से पूरी दुनिया हैरान है। करोड़ों यूजर्स के डेटा लीक मामले में फेसबुक को भी तगड़ा झटका लगा है। सोमवार को इस अमेरिकी सोशल मीडिया के शेयर करीब 7 फीसदी टूट गए और कंपनी के मार्केट वैल्यू में करीब 35 अरब डॉलर तक की गिरावट आ गई।अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में किया डाटा लीकअमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प की मदद करने वाली एक फर्म ‘कैम्ब्रिज एनालिटिका’ पर लगभग 5 करोड़ फेसबुक यूजर्स के निजी जानकारी चुराने के आरोप लगे हैं। इस जानकारी को चुनाव के दौरान इस्तेमाल किया गया है। खबर आने पर अमेरिकी और यूरोपीय सांसदों ने फेसबुक इंक से जवाब मांगा। वे जानना चाहते हैं कि ब्रिटेन की कैंब्रिज एनालिटिका ने डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव जीतने में किस तरह से मदद की?कुछ मिनटों में गवां दिए अरबों डॉलरयूरोप और अमेरिका के सांसदों ने यूजर्स का डाटा लीक करने के मामले में मार्क जुकरबर्ग को पेश होने के लिए कहा है। शेयर की कीमत घटने की वजह से फेसबुक सीईओ मार्क जुकरबर्ग को एक दिन में 6.06 अरब डॉलर (करीब 395 अरब रुपये) का झटका लग गया।फेसबुक पहले ही यह बता चुका है कि 2016 में अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से पहले उसके प्लेटफॉर्म का, प्रचार-प्रसार करने वाले रूसी लोगों ने कैसे इस्तेमाल किया था, लेकिन इसे लेकर जकरबर्ग कभी सवालों के घेरे में नहीं आए थे। इस मामले से सोशल नेटवर्किंग साइट्स के सख्त रेग्युलेशन का दबाव भी बन सकता है। ब्रिटेन के एक सांसद ने सोमवार को कहा कि देश के प्राइवेसी वॉचडॉग को अधिक ताकत मिलनी चाहिए।