डेटा चोरी मामला : जुकरबर्ग ने एप्पल CEO को लताड़ा, कहा- सिर्फ अमीरों के लिए नहीं फेसबुक

facebook-and-apple ceo
डेटा चोरी मामला : जुकरबर्ग ने एप्पल CEO को लताड़ा, कहा- सिर्फ अमीरों के लिए नहीं फेसबुक
नई दिल्ली। फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने 5 करोड़ यूजर्स के डेटा चोरी पर एक नया बयान दिया है। एक मीडिया को दिए इंटरव्यू में मार्क ज़करबर्ग ने कहा है कि फेसबुक यह समस्या सुलझाने के लिए कई साल का वक्त लगेगा। उनका यह बयान एप्पल के सीईओ टीम कुक की लताड़ के बाद आया है। टीम कुक ने जकरबर्ग को यूजर्स के डेटो को लेकर कड़ी सतर्कता बरतने की सलाह दी थी। जकरबर्ग का कहना था कि हम…

नई दिल्ली। फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने 5 करोड़ यूजर्स के डेटा चोरी पर एक नया बयान दिया है। एक मीडिया को दिए इंटरव्यू में मार्क ज़करबर्ग ने कहा है कि फेसबुक यह समस्या सुलझाने के लिए कई साल का वक्त लगेगा। उनका यह बयान एप्पल के सीईओ टीम कुक की लताड़ के बाद आया है। टीम कुक ने जकरबर्ग को यूजर्स के डेटो को लेकर कड़ी सतर्कता बरतने की सलाह दी थी।

जकरबर्ग का कहना था कि हम इसी कमी को सुराग बनाकर सब ठीक कर देंगे लेकिन इसमें कुछ समय लगेगा। जकरबर्ग ने कहा कि उन्‍हें उम्‍मीद है कि वे इन कमियों को 3 महीने में या 6 महीने में दुरुस्‍त कर देंगे। इसके बावजूद उन्‍हें वास्‍तविकता का आभास है कि जब वे समस्‍याओं का हल खोजने बैठेंगे तो इससे ज्‍यादा समय लगेगा।

{ यह भी पढ़ें:- Facebook Data Leak: फेसबुक ने किये कई बड़े बदलाव, अब फ्रेंड्स को सर्च करना होगा मुश्किल  }

एप्‍पल के टिम कुक पर बरसे जकरबर्ग

एक सप्‍ताह पहले फेसबुक की आलोचना की थी। टिम ने कहा था कि अपने बिजनेस मॉडल की चलते फेसबुक आज मुसीबत में पड़ी है क्‍योंकि वे लोगों के डाटा से पैसा बनाने में लगे हुए थे। इसके जवाब में जकरबर्ग ने कहा कि उनकी ये बातें सतही और सच्‍चाई से परे है कि यदि आप पैसे नहीं देंगे तो हम आपकी परवाह नहीं करेंगे। जबकि वास्‍तविकता यह है कि जब आप दुनिया भर में लोगों को आपस में जोड़ने की कोई सेवा उपलब्‍ध उपलब्‍ध कराएंगे तो बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो इस सेवा के लिए पैसा नहीं दे सकते। ऐसे में उन लोगों को सेवा उपलब्‍ध कराने के लिए विज्ञापन आधारित मॉडल ही एकमात्र समझदार उपाय है, जिसे बहुत सारे मीडिया समूह अपनाते रहे हैं।

कुक ने क्या कहा था?

फेसबुक की डेटा कलेक्शन तकनीकें खराब हैं, जिसमें यूजर्स से बहुत सारी पर्सनल जानकारियां ली जाती हैं और उनको जमाकर एडवर्टाइजर्स को बेचा जाता है। अगर हम भी अपने कंस्टमर्स की जानकारियों को ऐसे भुनाने लगें तो काफी पैसा कमा सकते हैं, लेकिन हम ऐसा कभी नहीं करेंगे।

{ यह भी पढ़ें:- Facebook Data Leak : जुकरबर्ग ने माना, 5 लाख भारतीय यूर्जस का डाटा हुआ लीक }

क्या है फेसबुक का डेटा चोरी विवाद

ब्रिटिश डेटा एनालिटिक्स फर्म पर 5 करोड़ यूजर्स के डेटा चुराने के आरोप लगे हैं। इस डेटा का इस्तेमाल अमेरिकी चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप को जिताने के लिए किया गया। इस पूरी घटना के बाद दुनियाभर के यूजर्स में फेसबुक के प्रति आक्रोश है और अपनी निजी जानकारियों को लेकर चिंता भी है। इस घटना के बाद जकरबर्ग ने सफाई दी है और इसके लिए खुद को जिम्मेदार बताया है।

Loading...