इन राज्यों में फैनी ने दी दस्तक, ममता बनर्जी ने दो दिनों तक अपने सभी राजनीतिक कार्यक्रम किये रद्द

odisha
इन राज्यों में फैनी ने दी दस्तक, ममता बनर्जी ने दो दिनों तक अपने सभी राजनीतिक कार्यक्रम किये रद्द

नई दिल्ली। चक्रवाती तूफान फैनी ने ओडिशा के पुरी में दस्तक दे दी है। शुक्रवार आठ बजे यह तूफान पुरी तट से टकराया। तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू हो गयी है। तेज हवाओं से भुवनेश्वर में बिजली के खंभे और पेड़ उखड़ गये हैं। वहीं चक्रवाती तूफान को देख कोलकाता हवाई अड्डे पर दोपहर तीन बजे से रात आठ बजे तक विमानों का परिचालन बंद कर दिया गया है। इस तूफान से ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल अभी तक सबसे ज्यादा प्रभावित है। वहीं गुरुवार रात आये आंधी तूफान से यूपी में छह लोगों की जान चली गयी। इस तूफान का असर और यूपी और बिहार में देखने को मिलेगा।

Fannie Storms In These States Mamata Banerjee Canceled All Her Political Programs For Two Days :

ओडिशा में चक्रवात फैनी की वजह से बारिश और तेज हवाएं चलने के बीच करीब 12 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है। लोगों को घरों में रहने की सलाह दी गयी है। ओडिशा के 11 तटीय जिलों के निचले और संवेदनशील इलाकों से करीब 11 लाख लोगों को सुरक्षित जगह पर ले जाया गया है। इन लोगों को 4,000 शिविरों में ठहराया गया है। इसके साथ ही 12 घंटे में चक्रवाती तूफान फैनी के पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में पहुंचने का अनुमान है। इसकी हवा की गति 60-70 किलोमीटर प्रति घंटा होगी।

इसको लेकर वहां पर अलर्ट जारी किया गया है। वहीं कोलकता में मौसम विभाग ने फैनी के मद्देनजर पूर्वी और पश्चिमी मेदिनीपुर, झारग्राम, दक्षिण और उत्तर 24 परगना, हावड़ा, हुगली और कोलकाता में हाई अलर्ट घोषित किया है। बंगाल के दीघा में तैनात एनडीआरएफ की टीम ने दत्तापुर और ताजपुर से 52 बच्चों सहित कुल 132 लोगों को बाहर निकाला है। इन सभी को राहत शिविर भेज दिया गया है।

तूफान के मद्देनजर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दो दिनों तक अपने सभी राजनीतिक कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं। इसके साथ ही आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में भी अलर्ट जारी किया गया है। वहीं गुरुवार देर शाम को फैनी तूफान का चंदौली में असर दिखाई दिया। यहां शाम छह से सात बजे के बीच आई तेज आंधी और बारिश ने भारी तबाही मचाई। यहां बिजली गिरने से पांच लोगों की मौत हो गई और पांच घायल हो गए हैं। इसके साथ ही सोनभद्र में बिजली गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई।

नई दिल्ली। चक्रवाती तूफान फैनी ने ओडिशा के पुरी में दस्तक दे दी है। शुक्रवार आठ बजे यह तूफान पुरी तट से टकराया। तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू हो गयी है। तेज हवाओं से भुवनेश्वर में बिजली के खंभे और पेड़ उखड़ गये हैं। वहीं चक्रवाती तूफान को देख कोलकाता हवाई अड्डे पर दोपहर तीन बजे से रात आठ बजे तक विमानों का परिचालन बंद कर दिया गया है। इस तूफान से ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल अभी तक सबसे ज्यादा प्रभावित है। वहीं गुरुवार रात आये आंधी तूफान से यूपी में छह लोगों की जान चली गयी। इस तूफान का असर और यूपी और बिहार में देखने को मिलेगा। ओडिशा में चक्रवात फैनी की वजह से बारिश और तेज हवाएं चलने के बीच करीब 12 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है। लोगों को घरों में रहने की सलाह दी गयी है। ओडिशा के 11 तटीय जिलों के निचले और संवेदनशील इलाकों से करीब 11 लाख लोगों को सुरक्षित जगह पर ले जाया गया है। इन लोगों को 4,000 शिविरों में ठहराया गया है। इसके साथ ही 12 घंटे में चक्रवाती तूफान फैनी के पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में पहुंचने का अनुमान है। इसकी हवा की गति 60-70 किलोमीटर प्रति घंटा होगी। इसको लेकर वहां पर अलर्ट जारी किया गया है। वहीं कोलकता में मौसम विभाग ने फैनी के मद्देनजर पूर्वी और पश्चिमी मेदिनीपुर, झारग्राम, दक्षिण और उत्तर 24 परगना, हावड़ा, हुगली और कोलकाता में हाई अलर्ट घोषित किया है। बंगाल के दीघा में तैनात एनडीआरएफ की टीम ने दत्तापुर और ताजपुर से 52 बच्चों सहित कुल 132 लोगों को बाहर निकाला है। इन सभी को राहत शिविर भेज दिया गया है। तूफान के मद्देनजर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दो दिनों तक अपने सभी राजनीतिक कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं। इसके साथ ही आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में भी अलर्ट जारी किया गया है। वहीं गुरुवार देर शाम को फैनी तूफान का चंदौली में असर दिखाई दिया। यहां शाम छह से सात बजे के बीच आई तेज आंधी और बारिश ने भारी तबाही मचाई। यहां बिजली गिरने से पांच लोगों की मौत हो गई और पांच घायल हो गए हैं। इसके साथ ही सोनभद्र में बिजली गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई।