1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. ‘हर हर शंभू’ भजन गाकर चर्चा में आईं फरमानी नाज ने कट्टरपंथियों को दिया करारा जवाब, ‘कलाकार का कोई धर्म नहीं होता’

‘हर हर शंभू’ भजन गाकर चर्चा में आईं फरमानी नाज ने कट्टरपंथियों को दिया करारा जवाब, ‘कलाकार का कोई धर्म नहीं होता’

यूट्यूब चौनल पर हर हर शंभू भजन गाकर चर्चा में आईं इंडियन आइडल फेम फरमानी नाज ने उन मुस्लिम उलेमा पर पलटवार किया है। जिन्होंने कहा कि फरमानी नाज को ऐसा गाना नहीं चाहिए। फरमानी नाज ने कहा कि ये उलेमा कहां थे जब उनके पति ने बिना तलाक दिए दूसरी शादी कर ली।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। यूट्यूब चौनल पर हर हर शंभू भजन गाकर चर्चा में आईं इंडियन आइडल फेम फरमानी नाज ने उन मुस्लिम उलेमा पर पलटवार किया है। जिन्होंने कहा कि फरमानी नाज को ऐसा गाना नहीं चाहिए। फरमानी नाज ने कहा कि ये उलेमा कहां थे जब उनके पति ने बिना तलाक दिए दूसरी शादी कर ली। उन्होंने कहा कि मैं बच्चे का पेट पालने के लिए गाना गाती हूं। उन्होंने यह भी कहा कि आज लड़कियां आत्मनिर्भर होकर समाज में जी रही हैं, वे अपने टैलेंट के दम पर आगे बढ़ रही हैं।

पढ़ें :- Har Har Shambhu वाली Farmani Naaz पर चढ़ा देश भक्ति का बुखार, फौजियों के संग फहराया तिरंगा

 देवबंद उलेमा हुए थे आग बबूला

बता दें कि फेमस यूट्यूब सिंगर फरमानी नाज ने हाल ही में अपने दर्शकों के लिए शिव भजन हर हर शंभू गाया था। बाद में इसको लेकर विवाद खड़ा हो गया है। देवबंद के उलेमा इस पर भड़क गए। मुस्लिम संगठन ने गायक के हर हर शंभू गाने को इस्लाम के खिलाफ बताया। अब इसी पर फरमानी नाज का जवाब आया है। एक टीवी इंटरव्यू में उन्होंने उलेमाओं पर करारा पलटवार किया है।

फरमानी नाज ने बताया कि उन्हें किसी ने घर आकर गाने से नहीं रोका है। बस कुछ लोग सोशल मीडिया पर इस तरह के कमेंट कर देते हैं। उन्होंने कहा कि आज मैं अपने हुनर के बल पर गाने गाकर आगे बढ़ रही हूं। कभी किसी धर्म का अपमान नहीं किया। शादी के बाद एक बेटा हुआ। बेटे को बीमारी थी। इसके बाद पति और ससुराल वालों ने छोड़ दिया। मुझे बिना तलाक दिए पति ने दूसरी शादी कर ली। इस पर कभी किसी ने मेरा दुख नहीं समझा।

पढ़ें :- ‘Har Har Shambhu’ भजन गायिका फरमानी पर मुस्लिम राष्ट्रीय मंच को है 'नाज', करेगा सम्मानित

उन्होंने कहा कि इसमें किसी को कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। लोग मेरे गानों को पसंद कर रहे हैं। बच्चे के भविष्य के लिए कर रही हूं। सरकार कोई ऐसा कदम उठाए कि जो मेरे साथ हुआ है वो किसी और के साथ नहीं हो। एक कलाकार का कोई धर्म नहीं होता है। उन्होंने कहा कि वह सभी प्रकार की धुनों को आवाज देने की कोशिश करती हैं।

कांवड़ यात्रा के दौरान हर हर शंभू भजन गाया
बता दें कि फरमानी नाज 2020 में सिंगिंग शो में दिखाई दी थीं। अब, वह सोशल मीडिया पर फैंस और फॉलोअर्स के बीच लोकप्रिय हैं। हाल ही में फरमानी ने कांवड़ यात्रा के दौरान श्हर हर शंभूश् भजन गाया। इस पर देवबंदी उलेमा ने नसीहत देते हुए कहा है कि इस्लाम में किसी भी तरह का गाना नहीं गाना चाहिए, ये इस्लाम के खिलाफ है। देवबंद स्थित मौलवी मुफ्ती असद कासमी ने कहा कि शरिया कानून के तहत गाने की इजाजत नहीं है।

पढ़ें :- 'हर-हर शंभू' भजन गाने के बाद कट्टरपंथियों के निशाने पर फरमानी नाज, कई लोगों ने दी धमकी

उलेमा ने यह भी कहा था कि ‘कोई भी गाना’ गाना ‘हराम’  है या इस्लाम में मना है। उन्होंने कहा कि खासकर खुद को मुस्लिम मानने वाली महिला को ऐसे गाने गाने से दूर रहना चाहिए। हालांकि फरमानी ने कहा कि वे एक कलाकार हैं और उन्हें हर तरह के गीत गाने पड़ते हैं।

जानें कौन हैं सिंगर फरमानी नाज
फरमानी नाज अपने गृह जिले मुजफ्फरनगर की एक जानी-मानी गायिका हैं। उनकी लोकप्रियता उनके गृहनगर तक ही सीमित नहीं है, उनके यूट्यूब पर लाखों की संख्या में फैन हैं। वे इंडियन आइडल सीजन 12 में दिखाई दी थीं। इंडियन आइडल में उनकी भागीदारी ने उन्हें अपने गांव और अपने प्रशंसकों के बीच स्टार का दर्जा दिलाया। बेटे के जन्म के बाद फरमानी के पति ने उन्हें छोड़ दिया और दूसरी शादी कर ली। फरमानी का बेटा बीमार रहता है।

 

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...