1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. किसान से मारपीट: शिवराज ने एसपी-कलेक्टर को हटाया, कमलनाथ ने सरकार को घेरा

किसान से मारपीट: शिवराज ने एसपी-कलेक्टर को हटाया, कमलनाथ ने सरकार को घेरा

By शिव मौर्या 
Updated Date

इंदौर। मध्यप्रदेश के गुना में एक दिल दलहा देने वाली तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इस तस्वीर में पुलिसकर्मी एक किसान परिवार को बर्बर तरीके से पीट रहे हैं। पुलिस की इस कार्रवाई से परेशान किसान दंपति ने ​कीटनाशक पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की। इस मामले की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही शिवराज सरकार से कार्रवाई की मांग तेज हुई।

घटना का वीडियो सामने आने के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने गुना के कलेक्टर और एसपी को तुरंत हटाने का निर्देश दिया है। इसके अलावा उन्होंने घटना की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। वहीं, पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने इसको लेकर सरकार पर हमला बोला है।

उन्होंने कहा है कि परिजन और मासूम बच्चों की बेहरमी से पिटाई कहां का न्याय है? वहीं सूबे के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने वीडियो जारी कर कहा, ‘गुना के कैंट थाना क्षेत्र की घटना का वीडियो देखकर व्यथित हूं। इस तरह की दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं से बचा जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने तत्काल अधिकारियों को उच्चस्तरीय जांच के निर्देश दिए हैं। भोपाल से जांच दल मौके पर जाकर पूरी घटना की जांच करेगा।

इसके बाद जो भी दोषी पाया जाएगा, उस पर कार्रवाई करेंगे।’ वहीं, कमलनाथ ने एक वीडियो ट्वीट कर कहा है कि, ये शिवराज सरकार प्रदेश को कहां ले जा रही है ? ये कैसा जंगल राज है? गुना में कैंट थाना क्षेत्र में एक दलित किसान दंपत्ति पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों द्वारा इस तरह बर्बरता पूर्ण लाठीचार्ज।

यदि पीड़ित युवक का ज़मीन सम्बंधी कोई शासकीय विवाद है तो भी उसे क़ानूनन हल किया जा सकता है लेकिन इस तरह क़ानून हाथ में लेकर उसकी,उसकी पत्नी की,परिजनो की व मासूम बच्चो तक की इतनी बेरहमी से पिटाई, यह कहां का न्याय है? क्या यह सब इसलिये कि वो एक दलित परिवार से है,ग़रीब किसान है?

यह है मामला
मध्यप्रदेश के गुना में मॉडल कॉलेज के निर्माण के लिए शासकीय कॉलेज प्रबंधन को जगनपुर चक क्षेत्र में 20 बीघा जमीन आवंटित की गई थी। जमीन पर काफी लंबे समय से गब्बू पारदी नाम के व्यक्ति का कब्जा था। कुछ समय पहले राजस्व और पुलिस की टीम ने मिलकर अतिक्रमण हटवा दिया था। हालांकि विभाग की लापरवाही के चलते जमीन पर निर्माण नहीं हो सका। इसकी वजह से अतिक्रमणकारियों ने दोबारा जमीन को घेरना शुरू दिया था।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...