1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. किसान ने फांसी लगाकर दी जान, सुसाइड नोट में लिखा-कृषि कानूनों को हटाने के लिए सरकार तारीख पर तारीख दे रही है

किसान ने फांसी लगाकर दी जान, सुसाइड नोट में लिखा-कृषि कानूनों को हटाने के लिए सरकार तारीख पर तारीख दे रही है

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का प्रदर्शन जारी है। किसान इस कानून को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। वहीं, सरकार कानून वापस लेने के मूड में नहीं दिख रही है। इस बीच हरियाणा के बहादुरगढ़ में इससे नाराज एक किसान ने फांसी लगाकर जान दे दी है।

पढ़ें :- राजस्थान सियासी संकट: सचिन पायलट पर बढ़ रहा कांग्रेस हाईकमान का भरोसा

किसान का शव सेक्टर—9 बाईपास के पास पेड़ से लटका मिला है। मृतक कर्मबीर के पास से एक सुसाइड नोट मिला है। सुसाइड नोट में लिखा है कि, सरकार तारीख पर तारीख दे रही है। पता नहीं कब ये काले कानून रद्द होंगे। जब तक काले कानून रद्द नही होंगे, तब तक यहां से नहीं जाएंगे।

उधर, पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल भिजवा दिया है। परिजनों के आने के बाद उनके बयान दर्ज होंगे। वहीं, दिल्ली-हरियाणा के टिकरी बॉर्डर पर रविवार सुबह एक और किसान की मौत हो गई।

मृतक किसान सुखमिंदर सिंह (60 साल) पंजाब के मोगा जिले के हैं और कल ही किसान आंदोलन में शामिल होने टिकरी बॉर्डर आए थे। सुखमिंदर को आज सुबह दिल का दौरा पड़ा और वो खत्म हो गए।

 

पढ़ें :- राजस्थान में सियासी बवाल: गहलोत हो सकते हैं कांग्रेस अध्यक्ष की रेस से बाहर, सामने आया नए दावेदार का नाम

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...