सिंधिया के सामने फूटा किसान का गुस्सा, कहा- मेरा कर्जा नहीं हुआ है माफ, 3 बार घर आ चुकी पुलिस

farmer
सिंधिया के सामने फूटा किसान का गुस्सा, कहा- मेरा कर्जा नहीं हुआ है माफ, 3 बार आ चुकी पुलिस

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता और मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की गुना सीट से लोकसभा उम्मीदवार ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को अपनी ही सभा में एक किसान की नाराजगी झेलनी पड़ी।

Farmer Reacts In Jyotiraditya Scindia Sabha On Karz Maafi In Guna :

लोकसभा चुनाव 2019 के प्रचार के लिए कांग्रेस के सीनियर नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया उत्तर प्रदेश में कांग्रेस उम्मीदवार के लिए वोट मांगने के बाद अब मध्य प्रदेश की गुना संसदीय सीट पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं जहां से वह 5वीं बार सांसद बनने का लक्ष्य लेकर चुनाव में उतरे हैं।

लेकिन उन्हें अपने चुनाव प्रचार के दौरान किसानों के गुस्से का सामना करना पड़ रहा है। सिंधिया एक सभा को संबोधित कर रहे थे तभी एक किसान वहां आया और कहने लगा कि सरकार का दो लाख रुपए माफ करने का दावा झूठा है।

किसान ने कहा कि मेरे घर तीन चार बार पुलिस आ चुकी है कहां कर्ज माफ हुआ है। उसके बाद वहां मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ता उस किसान को सिंधिया के पास लेकर आता है। सिंधिया कहते हैं नीचे बैठो, मौका दूंगा, तब बोलना। बीच में फिर वह बोलता है लेकिन सिंधिया उन्हें बैठने को कहता है। रिपोर्ट के अनुसार उसे मौका नहीं मिलता है। कांग्रेस कार्यकर्ता उसे वहां हटा देते हैं।

इस मामले में कांग्रेस (Congress) प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने कहा मध्य प्रदेश में कांग्रेस किसानों की कर्जमाफी को लेकर वचनबद्ध है, 21 लाख किसानों की सूची शिवराज सिंह को दी चुकी है, चुनाव जहां-जहां संपन्न हुए वहां 4,83 लाख किसानों की प्रक्रिया शुरू है। हो सकता है सरकारी प्रक्रिया के चलते किसी अन्नदाता का कर्जा माफ नहीं हुआ है उसको हम पता कराएंगे और एक एक किसान का कर्जमाफ करेंगे।

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता और मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की गुना सीट से लोकसभा उम्मीदवार ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को अपनी ही सभा में एक किसान की नाराजगी झेलनी पड़ी। लोकसभा चुनाव 2019 के प्रचार के लिए कांग्रेस के सीनियर नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया उत्तर प्रदेश में कांग्रेस उम्मीदवार के लिए वोट मांगने के बाद अब मध्य प्रदेश की गुना संसदीय सीट पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं जहां से वह 5वीं बार सांसद बनने का लक्ष्य लेकर चुनाव में उतरे हैं। लेकिन उन्हें अपने चुनाव प्रचार के दौरान किसानों के गुस्से का सामना करना पड़ रहा है। सिंधिया एक सभा को संबोधित कर रहे थे तभी एक किसान वहां आया और कहने लगा कि सरकार का दो लाख रुपए माफ करने का दावा झूठा है। किसान ने कहा कि मेरे घर तीन चार बार पुलिस आ चुकी है कहां कर्ज माफ हुआ है। उसके बाद वहां मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ता उस किसान को सिंधिया के पास लेकर आता है। सिंधिया कहते हैं नीचे बैठो, मौका दूंगा, तब बोलना। बीच में फिर वह बोलता है लेकिन सिंधिया उन्हें बैठने को कहता है। रिपोर्ट के अनुसार उसे मौका नहीं मिलता है। कांग्रेस कार्यकर्ता उसे वहां हटा देते हैं। इस मामले में कांग्रेस (Congress) प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने कहा मध्य प्रदेश में कांग्रेस किसानों की कर्जमाफी को लेकर वचनबद्ध है, 21 लाख किसानों की सूची शिवराज सिंह को दी चुकी है, चुनाव जहां-जहां संपन्न हुए वहां 4,83 लाख किसानों की प्रक्रिया शुरू है। हो सकता है सरकारी प्रक्रिया के चलते किसी अन्नदाता का कर्जा माफ नहीं हुआ है उसको हम पता कराएंगे और एक एक किसान का कर्जमाफ करेंगे।