HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. किसानों को हर साल मिलेगी 36 हजार रुपये पेंशन, जानें कैसे ले सकते हैं आप इसका लाभ?

किसानों को हर साल मिलेगी 36 हजार रुपये पेंशन, जानें कैसे ले सकते हैं आप इसका लाभ?

किसान पेंशन स्कीम यानी प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना के लाभार्थियों की संख्या 21,30,527 हो गई है। यह 22 मई तक का आंकड़ा है। इसका रजिस्ट्रेशन बंद नहीं हुआ है। आप जब चाहें इसमें रजिस्टर्ड होकर अपने बुढ़ापे के लिए पैसे का एक सहारा बना सकते हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। किसान पेंशन स्कीम यानी प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना के लाभार्थियों की संख्या 21,30,527 हो गई है। यह 22 मई तक का आंकड़ा है। इसका रजिस्ट्रेशन बंद नहीं हुआ है। आप जब चाहें इसमें रजिस्टर्ड होकर अपने बुढ़ापे के लिए पैसे का एक सहारा बना सकते हैं।

पढ़ें :- Braj Mandal Yatra: ब्रज मंडल यात्रा से पहले नूंह में इंटरनेट-SMS सेवा 24 घंटे के लिए बंद , सरकार अलर्ट

यदि आप पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम के लाभार्थी हैं तब तो कहना ही क्या? पीएम किसान के लाभार्थियों को अपनी जेब से एक भी पैसा नहीं लगाना होगा। पेंशन का पूरा प्रीमियम 6000 रुपये में से सीधे कट जाएगा। आपको बस इसके लिए विकल्प चुनना होगा।

कम किसानों ने दिखाई दिलचस्पी

किसानों की सामाजिक सुरक्षा के लिए मोदी सरकार ने पहली बार मानधन योजना शुरू की थी, लेकिन इसमें लोगों का रुझान वैसा नहीं है जैसा सरकार को उम्मीद थी। इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन 9 अगस्त 2019 से शुरू हो गया था, लेकिन इसकी विधिवत शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 12 सितंबर 2019 को की थी। इसके लिए झारखंड में कार्यक्रम हुआ था।

इसकी शुरुआत 12 करोड़ लघु एवं सीमांत किसानों के लिए की गई थी। पहले चरण में 5 करोड़ किसानों को रजिस्टर्ड करने का टारगेट तय किया गया था, लेकिन अब तक महज 21 लाख 30 हजार लोगों ने ही इसके लिए दिलचस्पी दिखाई है। इसके तहत 60 साल की उम्र के बाद रजिस्‍ट्रेशन कराने वाले हर किसान को हर महीने 3000 रुपए यानी सालाना 36000 रुपये पेंशन मिलेगी।

पढ़ें :- IND W vs UAE W: इंडिया विमेंस ने यूएई को 78 रनों से चटायी धूल; Richa Ghosh ने खेली तूफानी पारी

चाहेंगे तो ब्याज सहित वापस मिलेगा पैसा?

पीएम किसान मानधन योजना की खासियत यह है कि कोई किसान जब चाहे तब इस पॉलिसी को छोड़ सकता है। अगर बीच में कोई पॉलिसी से अलग होता है तो उसका कुल जमा पैसा और उस पर साधारण ब्याज मिलेगा। किसान पति-पत्‍नी इस स्‍कीम को अलग-अलग भी ले सकते हैं। अलग-अलग रजिस्ट्रेशन पर वे 60 साल की उम्र के बाद अलग-अलग पेंशन लेने के हकदार भी होंगे।

पेंशन योजना की खास बातें?

-18 से 40 साल तक के किसान रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।
-किसान पेंशन के लिए खेती योग्य जमीन होना जरूरी है।
-यह एक स्‍वैच्छिक एवं अशंदान पर आधारित पेंशन स्‍कीम है।
-प्रीमियम 60 साल की उम्र पूरी होने तक देना होगा।
-केंद्र सरकार भी किसानों के बराबर प्रीमियम जमा करेगी।
-इसका प्रबंधन भारतीय जीवन निगम (LIC) करेगा।
-इसका न्यूनतम प्रीमियम 55 रुपये और अधिकतम 200 रुपये प्रतिमाह है।
-उम्र के हिसाब से प्रीमियम अलग-अलग होगा।

कैसे होगा रजिस्ट्रेशन?

पढ़ें :- दुकानों पर नाम लिखने से बढ़ेगा भाईचारा, विपक्ष कर रहा विभाजनकारी राजनीति : स्वाती सिंह

-पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) पर रजिस्ट्रेशन होगा।
-आधार कार्ड देना सबके लिए जरूरी है।
-अगर आपको पीएम किसान स्कीम का लाभ नहीं मिल रहा तो खसरा-खतौनी की नकल लगेगी।
-2 फोटो और बैंक की पासबुक की भी जरूरत होगी।
-रजिस्ट्रेशन के लिए कोई फीस नहीं लगेगी।
-रजिस्ट्रेशन के दौरान किसान पेंशन कार्ड (Pension Card) बनाया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...