14 दिन पूर्व ही कर दी गई थी छात्र की हत्या: पुलिस

फतेहपुर: उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के गाजीपुर थाना क्षेत्र के गंभरी के जंगल में पेड़ से लटके मिले छात्र प्रशांत की हत्या चौदह दिन पूर्व ही कर दी गई थी। यह जानकारी थानाध्यक्ष ने शनिवार को दी। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के हवाले से गाजीपुर थानाध्यक्ष विद्याराम यादव ने शनिवार को बताया कि ‘15 नवंबर से गायब छात्र प्रशांत सैनी की हत्या चौदह दिन पूर्व ही कर दी गई और शव कहीं छिपा दिया गया था। बाद में उसके क्षत-विक्षत शव को डीजल तेल डाल कर जलाया गया और कंकाल को पेड़ से लटकाया गया है।’ उन्होंने बताया कि ‘प्रथम दृष्टया प्रेम प्रसंग के चलते छात्र को अगवा किया गया था। दावा किया कि छात्र के मोबाइल के नंबर को सर्विलांस में लगाया जा रहा है, इसके बाद जल्द ही पुलिस आरोपियों तक पहुंच जाएगी।’



उधर, छात्र के पिता जुगुल किशोर सैनी ने बताया कि ‘16 नवंबर को खागा क्षेत्र की एक लड़की का फोन उसके फोन पर आया था। उसने पूछा था कि ‘प्रशांत कहां है, उसका फोन बंद है।’ तब उसे बताया था कि ‘वह गायब है।’ छात्र के पिता ने बताया कि ‘यह लड़की घटना से कुछ दिन पूर्व गंभरी गांव अपनी रिश्तेदारी में आई थी, तभी से प्रशांत से फोन पर बात करने लगी थी।’ उसने शक जाहिर किया कि ‘इसी वजह से शायद प्रशांत की हत्या की गई होगी।’ जुगुल किशोर बताता है कि ‘बेटा स्कूली ड्रेस में बस्ता लेकर विद्यालय गया था, उसका मोबाइल और बस्ता अभी नहीं मिला है।’




उधर, जाफरगंज के सीओ मदन सिंह का कहना है कि ‘छात्र के शव में घरेलू कपड़े थे, इससे साफ जाहिर है कि छात्र अपने घरेलू कपड़े बस्ते में लेकर गया होगा। फिलहाल, मामले की जांच कई बिंदुओ पर केन्द्रित है, जल्द खुलासा किया जाएगा।’

बाँदा से आर जयन की रिपोर्ट

Loading...