कलयुगी पिता ने 13 साल की बच्‍ची को 7 लाख में बेंच दिया

father sold to a girl chil
कलयुगी पिता ने 13 साल की बच्‍ची को 7 लाख में बेंच दिया

जयपुर। राजस्थान में एक ऐसी घटना सामने आयी जिसने इन्सानियत को शर्मसार कर दिया। राजस्थान के बाड़मेर में एक कलयुगी पिता ने पैसों के लालच में 13 साल की मासूम बच्ची को 7 लाख में बेंच दिया। परिवार वालो से काफी दिन तक झूठ बोलता रहा, लेकिन जब परिवार वालों को उस पर शक हुआ तो पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने बच्ची को बरामद करने के साथ साथ पिता व दो खरीददारों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने यह भी बताया कि बच्ची 4 महीने की गर्भवती भी है।

Father Sells 13 Year Old Girl For 7 Lakhs :

पुलिस का कहना है कि जून में पिता ने बच्ची को बेंच दिया था और घर वालों को तरह तरह की कहानियां समझाने लगा। पहले उसने कहा कि बच्ची रिश्तेदार के यहां है और बाद में बताया कि उसका अपहरण हो गया है। इसी के बाद बच्ची के चाचा को शक हुआ तो उसने मुकदमा दर्ज करवाया। पुलिस की एक टीम जांच पड़ताल करते करते हैदराबाद पंहुच गयी और पुलिस ने भिखारी बनकर बच्ची को बरामद कर लिया साथ ही बच्ची को खरीदने वाले आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया।

मामला सिवाना तहसील के एक गांव का है। बच्ची का पिता शराबी है। चाचा के मुताबिक बीते 22 जून को गोपा राम माली नाम के व्यक्ति के साथ बच्ची का पिता बच्ची को लेकर उसका रिश्ता तय करने निकले थे। जब पिता घर लौटा तो उसने बताया कि बच्ची को वो मामा के घर छोड़ आये हैं। 26 जून को पता चला कि लड़की अपने मामा के यहां नहीं थी। इसके बाद पिता से दबाव बनाकर पूछा गया तो उसने बताया कि बच्ची का अपहरण हो गया। तब जाकर बच्ची के चाचा ने मुकदमा दर्ज करवाया।

जयपुर। राजस्थान में एक ऐसी घटना सामने आयी जिसने इन्सानियत को शर्मसार कर दिया। राजस्थान के बाड़मेर में एक कलयुगी पिता ने पैसों के लालच में 13 साल की मासूम बच्ची को 7 लाख में बेंच दिया। परिवार वालो से काफी दिन तक झूठ बोलता रहा, लेकिन जब परिवार वालों को उस पर शक हुआ तो पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने बच्ची को बरामद करने के साथ साथ पिता व दो खरीददारों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने यह भी बताया कि बच्ची 4 महीने की गर्भवती भी है। पुलिस का कहना है कि जून में पिता ने बच्ची को बेंच दिया था और घर वालों को तरह तरह की कहानियां समझाने लगा। पहले उसने कहा कि बच्ची रिश्तेदार के यहां है और बाद में बताया कि उसका अपहरण हो गया है। इसी के बाद बच्ची के चाचा को शक हुआ तो उसने मुकदमा दर्ज करवाया। पुलिस की एक टीम जांच पड़ताल करते करते हैदराबाद पंहुच गयी और पुलिस ने भिखारी बनकर बच्ची को बरामद कर लिया साथ ही बच्ची को खरीदने वाले आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया। मामला सिवाना तहसील के एक गांव का है। बच्ची का पिता शराबी है। चाचा के मुताबिक बीते 22 जून को गोपा राम माली नाम के व्यक्ति के साथ बच्ची का पिता बच्ची को लेकर उसका रिश्ता तय करने निकले थे। जब पिता घर लौटा तो उसने बताया कि बच्ची को वो मामा के घर छोड़ आये हैं। 26 जून को पता चला कि लड़की अपने मामा के यहां नहीं थी। इसके बाद पिता से दबाव बनाकर पूछा गया तो उसने बताया कि बच्ची का अपहरण हो गया। तब जाकर बच्ची के चाचा ने मुकदमा दर्ज करवाया।