1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. फेडरेशन भंग की जाए, नहीं तो करेंगे कानूनी कार्रवाई : Bajrang Punia

फेडरेशन भंग की जाए, नहीं तो करेंगे कानूनी कार्रवाई : Bajrang Punia

दिल्ली में जंतर-मंतर पर धरने पर बैठे पहलवान बजरंग पुनिया (Bajrang Punia) ने शुक्रवार को कहा कि हमारी ट्रेनिंग खराब हो रही है। उन्होंने कहा कि हम भी यहां बैठे नहीं रहना चाहते, हमने अपनी मांग सरकार के सामने रखी है, मांग पूरी होने तक प्रदर्शन जारी रहेगा। बजरंग पुनिया (Bajrang Punia) ने कहा कि हमारी लड़ाई किसी सरकार से नहीं फेडरेशन से है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। दिल्ली में जंतर-मंतर पर धरने पर बैठे पहलवान बजरंग पुनिया (Bajrang Punia) ने शुक्रवार को कहा कि हमारी ट्रेनिंग खराब हो रही है। उन्होंने कहा कि हम भी यहां बैठे नहीं रहना चाहते, हमने अपनी मांग सरकार के सामने रखी है, मांग पूरी होने तक प्रदर्शन जारी रहेगा। बजरंग पुनिया (Bajrang Punia) ने कहा कि हमारी लड़ाई किसी सरकार से नहीं फेडरेशन से है।

पढ़ें :- भारत के सभी बड़े पहलवानों ने Zagreb Open से अपना नाम वापस लिया, बोले- हमारी तैयारी पूरी नहीं

बजरंग पूनिया ने कहा कि हमने अपनी मांगें सरकार के सामने रख दी हैं और उन्होंने आश्वासन दिया है कि सारी मांगें पूरी हो जाएंगी। हमारी लड़ाई किसी राजनीतिक पार्टी से नहीं बल्कि हमारी लड़ाई संघ से है। हमें नहीं लगता कि इस मामले में इतना समय लगना चाहिए। प्रधानमंत्री ने हमेशा खिलाड़ियों का मान, सम्मान और साथ दिया है। हम प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और खेल मंत्री से निवेदन करेंगे कि इस मामले में जल्द से जल्द हमारी मांगों को सुना जाए। WFI के अध्यक्ष ने इसमें राजनीतिक, जाति आदि मोड़ दिया है। प्रदर्शन में सारे खिलाड़ी हैं।

देश के कई प्रसिद्ध पहलवानों का जंतर-मंतर पर तीसरे दिन भी धरने पर बैठे पहलवानों ने इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (आईओए) की अध्यक्ष पीटी उषा को पत्र लिखा है। उन्होंने पीटीउषा से शरण की शिकायत की है।

IOA के सामने रखी चार मांगें

पहलवान विनेश फोगाट, बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक, रवि दहिया और दीपक पूनिया ने संयुक्त तौर पर ये चिट्ठी लिखी है। चिट्ठी में पीटी उषा के सामने चार मांगें रखी गई हैं।

पढ़ें :- विनेश, बजरंग पूनिया और साक्षी मलिक ने ओवरसाइट कमेटी पर उठाया सवाल, कहा-बड़े दुख की बात है कि इस...

IOA यौन शोषण की शिकायत की जांच के लिए फौरन एक कमेटी का गठन करे

भारतीय कुश्ती महासंघ अध्यक्ष बृजभूषण शरण इस्तीफा दें।
भारतीय कुश्ती महासंघ भंग हो।
भारतीय कुश्ती महासंघ के लिए नई कमेटी बनाई जाए।

एथलीटों का कल्याण और भलाई हमारी प्राथमिकता : पीटी उषा

इससे पहले, बीती रात पीटी उषा ने पूरे मामले को लेकर ट्वीट किया था। उन्होंने कहा था कि IOA अध्यक्ष के रूप में, मैं सदस्यों के साथ इस मामले पर चर्चा कर रही हूं। एथलीटों का कल्याण और भलाई IOA की सर्वोच्च प्राथमिकता है। हम एथलीटों से अनुरोध करते हैं कि वे आगे आएं और अपनी चिंताओं को हमारे साथ रखें।

पढ़ें :- बृजभूषण सिंह की प्रेस पर अनुराग ठाकुर ने लगाया ब्रेक, कहा-मीडिया के पास न जाएं, पहलवानों को बातचीत के लिए बुलाया

विशेष समिति होगी गठित

उन्होंने ये भी कहा कि न्याय सुनिश्चित करने के लिए पूरी जांच की जाएगी। हमने भविष्य में उत्पन्न होने वाली ऐसी स्थितियों से निपटने के लिए त्वरित कार्रवाई के लिए एक विशेष समिति गठित करने का भी निर्णय लिया है।

 

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...