1. हिन्दी समाचार
  2. ख़बरें जरा हटके
  3. होने वाला है बाड़ा विनाश, सकर माउथ कैटफिश ने बनाया गंगा को ठिकाना… जानिए कितनी है खतरनाक

होने वाला है बाड़ा विनाश, सकर माउथ कैटफिश ने बनाया गंगा को ठिकाना… जानिए कितनी है खतरनाक

Fence Is Going To Be Destroyed Sucker Mouth Catfish Makes Ganga Hideout Know How Dangerous It Is

By आराधना शर्मा 
Updated Date

वाराणसी: दुनिया मे बहुत से जीव ऐसे हैं जो दुनिया मे तबाही मचा सकतें हैं लेकिन अगर इस कोरोना काम अब किसी ऐसी जीव की कल्पना की जाये तो शायद ये चिंता का कारण होगा।

पढ़ें :- जब शख्स को सड़क पर घूमता दिखा Black Panther, VIDEO बनाते हुए करने लगा...

दरअसल हम आपसे उए बात इस लिए बोल रहें हैं क्योंकि भारत से हजारों किलोमीटर दूर साउथ अमेरिका के अमेजॉन नदी में पाई जाने वाली सकर माउथ कैटफिश का वाराणसी की गंगा नदी में मिलना सभी को हैरान कर रहा है।

इस मछली ने वैज्ञानिकों को भी परेशानी में डाल दिया है। वाराणसी में रामनगर के रमना से होकर गुजरती गंगा नदी में मछुआरों के हाथ अजीबोगरीब मछली लगी है।

वैज्ञानिकों ने जताई चिंता

बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी (BHU) के मछली वैज्ञानिकों ने इसे साउथ अमेरिका की अमेजॉन नदी में पाई जाने वाली सकर माउथ कैटफिश के रूप पहचाना है। इसके साथ ही वैज्ञानिकों ने चिंता जताते हुए कहा है कि यह मछली मांसाहारी है और देश के पारिस्थितिकी तंत्र के लिए खतरा भी है।

पढ़ें :- भूत के साथ 15 साल रिलेशनशिप में थी महिला, रोज बनाते थे शारीरिक संबंध, अब चाहती है ब्रेकअप

बताया जाता है कि आज तक इस तरह की मछली, भारत की नदी में तो क्या, पूरे साउथ एशिया में भी नहीं मिली है। रिपोर्ट्स के अनुसार, वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि गंगा के इकोसिस्टम का यह मछली विनाश कर सकती है। वैज्ञानिकों ने सलाह भी दी है कि अगर आगे भी यह मछली गंगा में मिलती है तो इसे वापस नदी में ना छोड़ा जाए।

हालाँकि, इन सबके बीच बड़ा सवाल यह है कि आखिर हजारों किलोमीटर दूर साउथ अमेरिका के अमेजॉन नदी में मिलने वाली सकरमाउथ कैटफिश गंगा नदी में कैसे आ गई?

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...