1. हिन्दी समाचार
  2. ख़बरें जरा हटके
  3. होने वाला है बाड़ा विनाश, सकर माउथ कैटफिश ने बनाया गंगा को ठिकाना… जानिए कितनी है खतरनाक

होने वाला है बाड़ा विनाश, सकर माउथ कैटफिश ने बनाया गंगा को ठिकाना… जानिए कितनी है खतरनाक

By आराधना शर्मा 
Updated Date

वाराणसी: दुनिया मे बहुत से जीव ऐसे हैं जो दुनिया मे तबाही मचा सकतें हैं लेकिन अगर इस कोरोना काम अब किसी ऐसी जीव की कल्पना की जाये तो शायद ये चिंता का कारण होगा।

पढ़ें :- Cute Girl Video: टीचर को बाहर घूमता देख बच्ची ने किया ये खूबसूरत काम, देखें क्यूट वीडियो

दरअसल हम आपसे उए बात इस लिए बोल रहें हैं क्योंकि भारत से हजारों किलोमीटर दूर साउथ अमेरिका के अमेजॉन नदी में पाई जाने वाली सकर माउथ कैटफिश का वाराणसी की गंगा नदी में मिलना सभी को हैरान कर रहा है।

इस मछली ने वैज्ञानिकों को भी परेशानी में डाल दिया है। वाराणसी में रामनगर के रमना से होकर गुजरती गंगा नदी में मछुआरों के हाथ अजीबोगरीब मछली लगी है।

वैज्ञानिकों ने जताई चिंता

बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी (BHU) के मछली वैज्ञानिकों ने इसे साउथ अमेरिका की अमेजॉन नदी में पाई जाने वाली सकर माउथ कैटफिश के रूप पहचाना है। इसके साथ ही वैज्ञानिकों ने चिंता जताते हुए कहा है कि यह मछली मांसाहारी है और देश के पारिस्थितिकी तंत्र के लिए खतरा भी है।

पढ़ें :- Shocking Video: टीचर को बच्चे ने दी गोली मारने की धमकी, देखने वालों के उड़े होश

बताया जाता है कि आज तक इस तरह की मछली, भारत की नदी में तो क्या, पूरे साउथ एशिया में भी नहीं मिली है। रिपोर्ट्स के अनुसार, वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि गंगा के इकोसिस्टम का यह मछली विनाश कर सकती है। वैज्ञानिकों ने सलाह भी दी है कि अगर आगे भी यह मछली गंगा में मिलती है तो इसे वापस नदी में ना छोड़ा जाए।

हालाँकि, इन सबके बीच बड़ा सवाल यह है कि आखिर हजारों किलोमीटर दूर साउथ अमेरिका के अमेजॉन नदी में मिलने वाली सकरमाउथ कैटफिश गंगा नदी में कैसे आ गई?

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...