BHU में संस्कृत विवाद से चर्चा में आए फिरोज खान के पिता को मिला पद्म श्री

ramjan khan
BHU में संस्कृत विवाद से चर्चा में आए फिरोज खान के पिता को मिलेगा पद्म श्री

नई दिल्ली। आज पूरा देश 71वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपना भाषण भी दिया। गणतंत्र दिवस को लेकर शनिवार को पद्म पुरस्कारों का भी एलान किया गया। जिसमें राजस्थान के भजन गायक रमजान खान उर्फ मुन्ना मास्टर को पद्मश्री से नवाजा गया है।

Feroze Khans Father Who Came Under Discussion With Sanskrit Controversy In Bhu Will Get Padma Shri :

वह प्रोफेसर फिरोज खान के पिता हैं, जिनका पिछले दिनों बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (BHU) के संस्कृत निकाय में नियुक्ति को लेकर काफी बवाल मचा था। मुन्ना मास्टर जयपुर के रहने वाले हैं। वे भगवान श्रीकृष्ण  और गाय पर भक्ति गीत के लिए मशहूर हैं।    

शनिवार को पद्म पुरस्कारों के ऐलान के साथ ही भजन गायक रमजान खान को पद्म श्री प्रदान किया गया है। रमजान खान को पद्म पुरस्कार के लिए नामित किए जाने पर राजस्थान और वाराणसी के लोगों ने खुशी जाहिर की है। हालांकि पिता को पद्म पुरस्कार मिलने के बाद जब एनबीटी की टीम ने फिरोज खान से संपर्क करने का प्रयास किया तो उनसे बात नहीं हो सकी।  

बेटों को दी संस्कृत भाषा की तालीम

बता दें कि रमजान खान के चार बेटे शकील खान, फिरोज खान, वकील खान और वारिस खान ने संस्कृत की शिक्षा ली है। इसके अलावा रमजान ने अपनी बेटियों के हिंदी नाम लक्ष्मी और अनीता रखे हैं। राजस्थान में गोसेवा का काम करने वाले रमजान खान इलाके के एक प्रसिद्ध भजन गायक के रूप में जाने जाते हैं। हाल ही में रमजान के बेटे फिरोज खान के बीएचयू के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय में नियुक्त होने पर काफी विरोध प्रदर्शन हुए थे। हालांकि फिरोज खान को बाद में दूसरे संकाय में नियुक्ति मिल गई थी।  
 

नई दिल्ली। आज पूरा देश 71वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपना भाषण भी दिया। गणतंत्र दिवस को लेकर शनिवार को पद्म पुरस्कारों का भी एलान किया गया। जिसमें राजस्थान के भजन गायक रमजान खान उर्फ मुन्ना मास्टर को पद्मश्री से नवाजा गया है। वह प्रोफेसर फिरोज खान के पिता हैं, जिनका पिछले दिनों बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (BHU) के संस्कृत निकाय में नियुक्ति को लेकर काफी बवाल मचा था। मुन्ना मास्टर जयपुर के रहने वाले हैं। वे भगवान श्रीकृष्ण  और गाय पर भक्ति गीत के लिए मशहूर हैं।     शनिवार को पद्म पुरस्कारों के ऐलान के साथ ही भजन गायक रमजान खान को पद्म श्री प्रदान किया गया है। रमजान खान को पद्म पुरस्कार के लिए नामित किए जाने पर राजस्थान और वाराणसी के लोगों ने खुशी जाहिर की है। हालांकि पिता को पद्म पुरस्कार मिलने के बाद जब एनबीटी की टीम ने फिरोज खान से संपर्क करने का प्रयास किया तो उनसे बात नहीं हो सकी।   बेटों को दी संस्कृत भाषा की तालीम बता दें कि रमजान खान के चार बेटे शकील खान, फिरोज खान, वकील खान और वारिस खान ने संस्कृत की शिक्षा ली है। इसके अलावा रमजान ने अपनी बेटियों के हिंदी नाम लक्ष्मी और अनीता रखे हैं। राजस्थान में गोसेवा का काम करने वाले रमजान खान इलाके के एक प्रसिद्ध भजन गायक के रूप में जाने जाते हैं। हाल ही में रमजान के बेटे फिरोज खान के बीएचयू के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय में नियुक्त होने पर काफी विरोध प्रदर्शन हुए थे। हालांकि फिरोज खान को बाद में दूसरे संकाय में नियुक्ति मिल गई थी।