1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी में थमा पांचवें चरण का प्रचार, वाेटिंग 27 को, इन दिग्गजों की प्रतिष्ठा लगी दांव पर

यूपी में थमा पांचवें चरण का प्रचार, वाेटिंग 27 को, इन दिग्गजों की प्रतिष्ठा लगी दांव पर

यूपी विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण का प्रचार शुक्रवार शाम छह बजे थम गया। इस चरण में 12 जिलों की 61 विधानसभा सीटों पर 27 फरवरी को मतदान होगा। यह जानकारी राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने दी। उन्होंने बताया कि पांचवें चरण में प्रदेश के 12 जनपदों की 61 विधान सभा सीटों के लिए रविवार को सुबह सात बजे से मतदान शुरू होगा जो शाम छह बजे तक चलेगा।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण का प्रचार शुक्रवार शाम छह बजे थम गया। इस चरण में 12 जिलों की 61 विधानसभा सीटों पर 27 फरवरी को मतदान होगा। यह जानकारी राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने दी। उन्होंने बताया कि पांचवें चरण में प्रदेश के 12 जनपदों की 61 विधान सभा सीटों के लिए रविवार को सुबह सात बजे से मतदान शुरू होगा जो शाम छह बजे तक चलेगा। पांचवें चरण के 12 जिलों में अमेठी, रायबरेली, सुल्तानपुर, चित्रकूट, प्रतापगढ़, कौशाम्बी, प्रयागराज, बाराबंकी, अयोध्या, बहराइच, श्रावस्ती एवं गोण्डा के 61 विधान सभा क्षेत्रों में मतदान होगा।

पढ़ें :- Uddhav government crisis: ​बागी विधायकों की पत्नियों से संपर्क में रश्मि ठाकरे, उद्धव ने भेजा एसएमएस

पांचवें चरण की 61 सीटों पर कुल 692 उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे हैं। प्रतापपुर सीट के लिए सबसे अधिक 25, जबकि मिल्कीपुर, पयागपुर, बाराबंकी, जैदपुर, हैदरगढ़, सदर और कादीपुर सीटों के लिए सबसे कम सात-सात उम्मीदवार मैदान में हैं।

पिछले चार चरण के चुनाव में पश्चिमी उत्तर प्रदेश और बुंदेलखंड सहित अन्य इलाकों की 231 सीटों पर मतदान संपन्न हो चुका है। इसके बाद चुनावी प्रक्रिया अब प्रदेश के अवध व पूर्वांचल क्षेत्र में प्रवेश कर जायेगी। सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) को मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (SP) से पिछले चरणाें के चुनाव में कड़ी चुनौती मिलने के बाद अवध और पूर्वांचल क्षेत्र में भाजपा को बढ़त मिलने की उम्मीद है।

प्रचार के अंतिम दिन गृह मंत्री अमित शाह ने प्रयागराज, काैशांबी और अंबेडकरनगर में जनसभायें की, जबकि योगी सुलतानपुर, चित्रकूट और प्रयागराज में प्रचार किया। प्रियंका गांधी ने अपने भाई राहुल गांधी के साथ अमेठी में प्रचार किया। पांचवें चरण में कांग्रेस को भी अपने परंपरागत क्षेत्र अमेठी और रायबरेली जिलों में अग्निपरीक्षा का सामना करना है। कांग्रेस के गढ़ रहे इस इलाके में भाजपा ने पिछले चुनाव में जबरदस्त सेंधमारी कर देश की सबसे पुरानी पार्टी के किले को ध्वस्त कर दिया था। कांग्रेस के लिये यह चुनाव अपना किला बचाने का निर्णायक चरण साबित होगा।

पांचवें चरण में प्रदेश के उपमुख्यमंत्री सहित आधा दर्जन मंत्रियों की भी परीक्षा होगी। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य कौशांबी की सिराथू सीट से चुनाव लड़ रहे हैं जबकि योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह पट्टी सीट से चुनाव मैदान में हैं। कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, इलाहबाद पश्चिम सीट से भाजपा प्रत्याशी हैं। योगी सरकार में मंत्री नंद गोपाल नंदी इलाहाबाद दक्षिण, समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री मनकापुर (सु) सीट से और राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय चित्रकूट सदर से चुनाव लड़ रहे हैं।

पढ़ें :- Lucknow News: पत्नी और बच्चों को कमरे में बंदकर रेलवे ठेकेदार को गोलियों से भूना, दिनदहाड़े वारदात से हड़कंप

पांचवें चरण वाली विधानसभा सीटों में तिलोई, सलोन (सु), जगदीशपुर (सु), गौरीगंज, अमेठी, इसौली, सुल्तानपुर, सदर, लम्भुआ, कादीपुर (सु), चित्रकूट, मानिकपुर, रामपुर खास, बाबागंज (सु), कुण्डा, विश्वनाथ गंज, प्रतापगढ़, पट्टी, रानीगंज, सिराथू, मंझनपुर (सु), चायल, फाफामऊ, सोरावं (सु), फूलपुर, प्रतापपुर, हण्डिया, मेजा, करछना, इलाहाबाद पश्चिम, इलाहाबाद उत्तर, इलाहाबाद दक्षिण, बारा (सु), कोरावं (सु), कुर्सी, राम नगर, बाराबंकी, जैदपुर (सु), दरियाबाद, रूदौली, हैदरगढ़ (सु), मिल्कीपुर (सु), बीकापुर, अयोध्या, गोसाईगंज, बलहा (सु), नानपारा, मटेरा, महसी, बहराइच, पयागपुर, कैसरगंज, भिनगा, श्रावस्ती, मेहनौन, गोण्डा, कटरा बाजार, कर्नलगंज, तरबगंज, मनकापुर (सु) एवं गौरा विधान सभा सीट शामिल हैं।

शुक्ला ने बताया कि प्रत्येक पोलिंग बूथ पर मतदाताओं को किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े, इसके लिए समुचित व्यवस्था कराने हेतु प्रशासन को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...