आखिरकार सालों बाद मिल ही गया बरेली के बाज़ार में गिरा झुमका

आखिरकार सालों बाद मिल ही गया बरेली के बाज़ार में गिरा झुमका
आखिरकार सालों बाद मिल ही गया बरेली के बाज़ार में गिरा झुमका

लखनऊ। आखिरकार 54 साल बाद बरेली ने फिल्म अदाकारा ‘साधना’ का वह झुमका ढूंढ ही निकाला जो बरेली के बाजार में खो गया था। 1966 में बनी फिल्म ‘मेरा साया’ का गाना ‘झुमका गिरा रे’ और बरेली के बाज़ार में गिरा झुमका देशभर में लोगों के बीच काफी मशहूर रहा। इस गाने से बरेली को खासा पहचान मिली वहीं अब बरेली में झुमका तिराहा बनाया गया है। बरेली के तिराहे पर एक पोल पर झुमके की आकृति को बनवाया गया है, जो लोगों को बेहद आकर्षित कर रहा है।

Finally Bareilly Gets Jhumka In 54 Years After The Song Jhumka Gira Re :

यहां मिला बरेली के बाज़ार में गिरा घुमका

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले स्थित एनएच 24 का जीरो पॉइंट अब लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है। दरअसल यहां बनाया गया झुमका तिराहा से गुजरने वाले लोग खास झुमके को देख उसकी तस्वीर लेने से खुद को नहीं रोक पाते हैं। यहां कोई झुमके के साथ सेल्फी लेता है तो कोई इसकी अलग-अलग तस्वीरें अपने कैमरे में कैद करता है।

फिल्म ‘मेरा साया’ की सिल्वर जुबली पर इस खास झुमके का निर्माण कार्य शुरू किया गया था, बताया जाता है कि बीडीए के पास इस झुमके को बनाने के लिए पर्याप्त पैसा नहीं था तो बरेली के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. केशव ने मदद के लिए हाथ बढ़ाया। इसके बाद शनिवार को इस तिराहे का उद्घाटन कर दिया गया।

बरेली रेंज के डीआईजी राजेश पांडेय ने बताया कि, ‘मेरी बरेली में पोस्टिंग के साथ मित्रों-शुभचिंतकों द्वारा हंसी-मजाक में हमेशा कहा जाता था कि झुमका मिला या नहीं। आज बरेली का झुमका मिल गया। लखनऊ-दिल्ली हाइवे पर बरेली शहर के प्रवेश मार्ग पर स्थित परसाखेड़ा चौराहे पर आज झुमका स्थापित किया गया और इसका नाम झुमका तिराहा रखा गया।’

लखनऊ। आखिरकार 54 साल बाद बरेली ने फिल्म अदाकारा 'साधना' का वह झुमका ढूंढ ही निकाला जो बरेली के बाजार में खो गया था। 1966 में बनी फिल्म 'मेरा साया' का गाना 'झुमका गिरा रे' और बरेली के बाज़ार में गिरा झुमका देशभर में लोगों के बीच काफी मशहूर रहा। इस गाने से बरेली को खासा पहचान मिली वहीं अब बरेली में झुमका तिराहा बनाया गया है। बरेली के तिराहे पर एक पोल पर झुमके की आकृति को बनवाया गया है, जो लोगों को बेहद आकर्षित कर रहा है। यहां मिला बरेली के बाज़ार में गिरा घुमका उत्तर प्रदेश के बरेली जिले स्थित एनएच 24 का जीरो पॉइंट अब लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है। दरअसल यहां बनाया गया झुमका तिराहा से गुजरने वाले लोग खास झुमके को देख उसकी तस्वीर लेने से खुद को नहीं रोक पाते हैं। यहां कोई झुमके के साथ सेल्फी लेता है तो कोई इसकी अलग-अलग तस्वीरें अपने कैमरे में कैद करता है। फिल्म 'मेरा साया' की सिल्वर जुबली पर इस खास झुमके का निर्माण कार्य शुरू किया गया था, बताया जाता है कि बीडीए के पास इस झुमके को बनाने के लिए पर्याप्त पैसा नहीं था तो बरेली के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. केशव ने मदद के लिए हाथ बढ़ाया। इसके बाद शनिवार को इस तिराहे का उद्घाटन कर दिया गया। बरेली रेंज के डीआईजी राजेश पांडेय ने बताया कि, 'मेरी बरेली में पोस्टिंग के साथ मित्रों-शुभचिंतकों द्वारा हंसी-मजाक में हमेशा कहा जाता था कि झुमका मिला या नहीं। आज बरेली का झुमका मिल गया। लखनऊ-दिल्ली हाइवे पर बरेली शहर के प्रवेश मार्ग पर स्थित परसाखेड़ा चौराहे पर आज झुमका स्थापित किया गया और इसका नाम झुमका तिराहा रखा गया।'