खुशखबरी : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने घटाई होम और कार लोन पर ब्याज दरें

nirmala sitaraman
खुशखबरी : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने घटाई होम और कार लोन पर ब्याज दरें

नई दिल्ली। आर्थिक मंदी की खबरों के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार शाम प्रेस वार्ता कर एक बड़ा ऐलान किया है। उन्होने कहा कि आर्थिक सुधार सरकार के एजेंडा में सबसे ऊपर है, सुधारों की प्रक्रिया जारी है, इसकी रफ्तार थमी नहीं है।’ दौरान उन्होने कहा कि चीन, अमेरिका, जर्मनी, यूके, फ्रांस, कनाडा, इटली, जापान जैसे देशों से भारत की जीडीपी ग्रोथ रेट ज्यादा है।

Finance Minister Nirmala Sitharaman Reduced Interest Rates On Home And Car Loans :

सीतारमण ने कहा कि अमेरिका-चीन व्यापार युद्ध तथा मुद्रा अवमूल्यन के चलते वैश्विक व्यापार में काफी उतार-चढ़ाव वाली स्थिति पैदा हुई है। इस दौरान उन्होने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि अब होम, ऑटो और अन्य लोन पर ईएमआई घटाई जाएगी।

वित्त मंत्री ने कहा कि RBI की ओर से ब्याज दरों में कटौती का पूरा फायदा ग्राहकों को देने पर सभी बैंक सहमत हो गए हैं। वे होम, ऑटो और अन्य लोन पर ईएमआई घटाएंगे। उन्होने साथ ही ये भी बताया कि रेपो रेट में कटौती के मुताबिक एमसीएलआर में कटौती होगी। वहीं सभी सरकारी बैंकों को आदेश दिया कि लोन जैसे ही पूरा होगा, उसके 15 दिन के भी ग्राहक को सभी कागजात लौटाने होंगे।

नई दिल्ली। आर्थिक मंदी की खबरों के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार शाम प्रेस वार्ता कर एक बड़ा ऐलान किया है। उन्होने कहा कि आर्थिक सुधार सरकार के एजेंडा में सबसे ऊपर है, सुधारों की प्रक्रिया जारी है, इसकी रफ्तार थमी नहीं है।' दौरान उन्होने कहा कि चीन, अमेरिका, जर्मनी, यूके, फ्रांस, कनाडा, इटली, जापान जैसे देशों से भारत की जीडीपी ग्रोथ रेट ज्यादा है। सीतारमण ने कहा कि अमेरिका-चीन व्यापार युद्ध तथा मुद्रा अवमूल्यन के चलते वैश्विक व्यापार में काफी उतार-चढ़ाव वाली स्थिति पैदा हुई है। इस दौरान उन्होने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि अब होम, ऑटो और अन्य लोन पर ईएमआई घटाई जाएगी। वित्त मंत्री ने कहा कि RBI की ओर से ब्याज दरों में कटौती का पूरा फायदा ग्राहकों को देने पर सभी बैंक सहमत हो गए हैं। वे होम, ऑटो और अन्य लोन पर ईएमआई घटाएंगे। उन्होने साथ ही ये भी बताया कि रेपो रेट में कटौती के मुताबिक एमसीएलआर में कटौती होगी। वहीं सभी सरकारी बैंकों को आदेश दिया कि लोन जैसे ही पूरा होगा, उसके 15 दिन के भी ग्राहक को सभी कागजात लौटाने होंगे।