1. हिन्दी समाचार
  2. वित्त मंत्री ने कहा, मार्च तक बेच दिया जाएगा Air India और भारत पेट्रोलियम

वित्त मंत्री ने कहा, मार्च तक बेच दिया जाएगा Air India और भारत पेट्रोलियम

Finance Minister Nirmala Sitharaman Said Air India And Bharat Petroleum Will Be Sold By March

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने शनिवार को कहा कि सरकार मार्च 2020 तक देश की सरकारी एयरलाइन एअर इंडिया (Air India) और ऑयल मार्केटिंग कंपनी (OMC) भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (BPCL) को बेचने की प्रक्रिया पूरी कर लेगी। वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार को इन दो कंपनियों को बेचने से इस वित्त वर्ष में एक लाख करोड़ का फायदा होगा।

पढ़ें :- प्रियंका चोपड़ा से भी ज्यादा खूबसूरत है उनकी बुआ की बेटी, फिर भी फिल्मों में हो गई फ्लॉप

सीतारमन ने कहा, ‘एयर इंडिया की बिक्री प्रक्रिया शुरू होने से पहले ही निवेशकों में उत्साह देखा गया है। पिछले साल निवेशकों ने एयर इंडिया को खरीदने में ज्यादा उत्साह नहीं दिखाया था इसलिए इसे नहीं बेचा जा सका था। बता दें कि मौजूदा वित्त वर्ष में कर संग्रह में गिरावट को देखते हुए सरकार विनिवेश और स्ट्रैटजिक सेल के जरिए रेवेन्यू जुटाना चाहती है।  

आर्थिक सुस्ती से निपटने के लिए समय पर कदम उठाए- वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि आर्थिक सुस्ती (Economic Slowdown) से निपटने के लिए समय पर जरूरी कदम उठाए गए हैं और कई क्षेत्र अब सुस्ती से बाहर निकल रहे हैं। उन्होंने बताया कि कई उद्योगों से कहा गया है कि वे अपनी बैलेंस शीट में सुधार करें और उनमें से कई नए निवेश की तैयारी कर रहे हैं।

जीएसटी कलेक्शन बढ़ने की उम्मीद-

वित्त मंत्री ने कहा कि उन्हें उम्मीद थी कि कुछ क्षेत्रों में सुधार से जीएसटी कलेक्शन (GST Collection) बढ़ेगा. इसके अलावा सुधार के कदमों से भी टैक्स कलेक्शन बढ़ सकता है। उन्होंने कहा, सुप्रीम कोर्ट ने एस्सार स्टील पर जो फैसला सुनाया है इससे काफी सुधार देखने को मिला है और अगली तिमाही में इसका प्रभाव बैंकों की बैलेंस शीट पर देखने को मिलेगा।

पढ़ें :- बॉलीवुड की इन पॉपुलर अभिनेत्रियों ने शादी के बाद छोड़ दी थी फिल्म इंडस्ट्री, एक आज भी डांस कर कमा रही है पैसे

त्योहारों के दौरान बैंकों ने 1.8 लाख करोड़ का लोन बांटा-

उन्होंने कहा कि लोगों में बदलाव आया है क्योंकि त्योहारों के दौरान बैंकों ने 1.8 लाख करोड़ का लोन बांटा है। सीतारमण ने कहा, अगर कंज्यूमर्स की आर्थिक स्थिति पटरी पर न होती तो वे बैंकों से लोन लेने के बारे में विचार ही क्यों करते? और ऐसा पूरे देश में है।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...