आरबीआई गवर्नर से उपर है वित्त मंत्री का दर्जा: मनमोहन सिंह

dr. manmohan singh
आरबीआई गवर्नर से उपर है वित्त मंत्री का दर्जा: मनमोहन सिंह

Finance Minister Status Is Bigger Than Rbi Governor According To Manmohan Singh

नई दिल्ली। आरबीआई गवर्नर और सरकार के बीच चल रही खींचतान के बीच अब पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का एक बयान भी चर्चा का विषय बन गया है। दरअसल उन्होने अपनी बेटी दमन सिंह की किताब ‘स्ट्रिक्टली पर्सनल: मनमोहन गुरुशरण’ में कहा है कि वित्त मंत्री का दर्जा हमेशा रिजर्व बैंक के गवर्नर से ऊपर होता है। उन्होने कहा कि जब रिजर्व बैंक के गवर्नर को नौकरी छोंड़नी होती है, जब वो सरकार के खिलाफ चला जाता है।

उन्होंने अपने दिनों को याद करते हुए कहा कि जब भी गवर्नर कोई फैसला लेना चाहे तो उसे सरकार को विश्वास में लेना होता है। रिजर्व बैंक का गवर्नर वित्त मंत्री से उपर नहीं हो सकता है, वो वित्त मंत्री का आदेश कभी नहीं टाल सकता है। उन्होंने 1983 में इंदिरा गांधी सरकार के दौरान जिस संघर्ष का सामना किया, उसकी बात भी कही। उन्होंने कहा कि स्वायत्ता बैंकों के लाइसेंस देने वाले मामले में उन्होंने इस्तीफा देने के बारे में सोचा था।

इंदिरा सरकार के समय की बात बताते हुए उन्होंने कहा कि उस वक्त ऐसी परिस्थितियां उत्पन्न हो गई थीं, जिससे उनका टकराव सरकार से हो गया। उन्होंने सराकर को भी आरबीआई का नजरिया बताया। बाद में सरकार के निर्देश के बाद मामला सुलझ गया।

नई दिल्ली। आरबीआई गवर्नर और सरकार के बीच चल रही खींचतान के बीच अब पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का एक बयान भी चर्चा का विषय बन गया है। दरअसल उन्होने अपनी बेटी दमन सिंह की किताब 'स्ट्रिक्टली पर्सनल: मनमोहन गुरुशरण' में कहा है कि वित्त मंत्री का दर्जा हमेशा रिजर्व बैंक के गवर्नर से ऊपर होता है। उन्होने कहा कि जब रिजर्व बैंक के गवर्नर को नौकरी छोंड़नी होती है, जब वो सरकार के खिलाफ चला जाता है। उन्होंने अपने…