कांग्रेस के सामने वि​त्तीय संकट, लोकसभा चुनाव में कैसे होगा मोदी का सामना

rahul gandhi soniya funding
कांग्रेस के सामने वि​त्तीय संकट, लोकसभा चुनाव में कैसे होगा मोदी का सामना

Financial Crisis Threatens Congress How Party Will Fight With Bjp In Loksabha Election

नई दिल्ली। कर्नाटक में सरकार बनाने के बाइ भले ही कांग्रेस में जश्न का माहौल हो लेकिन आगामी 2019 लोकसभा चुनाव में उसे भारी संकट का सामना करना पड़ेगा। कारण है आर्थिक संकट। बताया जा रहा है कि एक तरफ जहां बीजेपी के खजाने में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही हैं, वही कांग्रेस का खजाना लगभग खाली हो गया है। पार्टी विकराल वि​त्तीय संकट से जूझ रही है। हाला​त ये हैं कि कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ेेगा। ऐसे में उसे मोदी सरकार को चुनौती देना आसान नहीं होगा। ये बात राजनीतिक दलों की ओर से चुनाव आयोग को दी गई रिपोर्ट के आधार पर सामने आई है।

बता दें कि चुनाव आयोग को दी गई रिपोर्ट के मुताबिक भाजपा की कमाई पिछले 1 साल के दौरान 81 फीसदी बढ़ी है जबकि कांग्रेस की कमाई में 14 फीसदी गिरावट आई है। बीजेपी की कमाई बढ़ने के कारण के पीछे कारण बताया गया किया कि देश के ज्यादातर राज्यों में उसकी सरकार है, जिसके चलते उसे लगातार फंडिंग हो रही है। दूसरी तरफ कांग्रेस के पास जो हैं, वो उसे गंवा रही है। जिसके चलते पार्टी की मालिय हालत खस्ता हाल हो रही है।

बता दें कि कांग्रेस पार्टी ने की फंड में कटौती इसका असर भी दिखने लगा है। उसने पिछले पांच महीने से राज्य इकाइयों को आफिस फंड के नाम पर एक पैसा नही दिया हैं। इसके साथ ही केन्द्रीय नेतृत्व ने पार्टी सदस्यों से अपना योगदान बढ़ाने और पार्टी इकाइयों से अपना खर्च कम करने की बात कही है। इससे ये साबित होता है कि पार्टी की हालत क्या हो गई है।

बता दें कि साल 2014 में बीजेपी से से हारने के बाद अब कांग्रेस को वो पैसा मिलना बंद हो गया है, जो उसे औद्योगिक घरानों से मिलता था, इसके अलावा नोटबंदी से भी पार्टी को भारी नुकसान उठाना पड़ा। नोटबंदी के बाद पार्टी के पास कैश का संकट और भी बढ़ गया। आलम ये हैं कि पार्टी अब क्राउड फंडिंग से ही काम चला रही है।

बता दें कि एडीआर ने जो अपनी रिपोर्ट पेश की है उसके मुताबिक बीजेपी की कमाई में 463.41 करोड़ रुपये बढ़ी है। वित्त वर्ष 2016-17 में बीजेपी की कमाई 1,034.27 करोड़ रुपये हो गई है। कांग्रेस की कमाई में पिछले साल के मुकाबले 36.20 करोड़ रुपये की गिरावट हुई है। बीजेपी को लगभग 1000 करोड़ रुपये का चंदा मिला है वहीं कांग्रेस को इस दौरान महज लगभग 50 करोड़ रुपये बतौर चंदा मिला है।

नई दिल्ली। कर्नाटक में सरकार बनाने के बाइ भले ही कांग्रेस में जश्न का माहौल हो लेकिन आगामी 2019 लोकसभा चुनाव में उसे भारी संकट का सामना करना पड़ेगा। कारण है आर्थिक संकट। बताया जा रहा है कि एक तरफ जहां बीजेपी के खजाने में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही हैं, वही कांग्रेस का खजाना लगभग खाली हो गया है। पार्टी विकराल वि​त्तीय संकट से जूझ रही है। हाला​त ये हैं कि कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में काफी दिक्कतों का सामना…