FIR: सपा के सांसद सहित 46 लोगों के खिलाफ दर्ज हुई एफआईआर, खुद पुलिस ने दर्ज करायी रिपोर्ट

b

प्रयागराज। पुलिस और सपा के लोगों के बीच मंगलवार हुई झड़प के मामले में सपा सांसद धर्मेंद्र यादव सहित 46 नामजद और 250 अज्ञात सपाइयों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। सांसद धर्मेन्द्र यादव, फूलपुर सांसद नागेन्द्र सिंह पटेल, प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र संघ अध्यक्ष उदय प्रकाश यादव जिला अध्यक्ष कृष्ण मूर्ति यादव समेत 46 नामजद पर एफआईआर दर्ज की गयी है।

Fir Registered Against Sapa Mp And Others By Police :

कर्नलगंज थाना अध्यक्ष सतेन्द्र सिंह की तहरीर पर मामला दर्ज हुआ है। तहरीर में छात्रों को बलवा के लिए उकसाने क़ा आरोप लगाया गया है। बलवा, तोडफ़ोड़, सार्वजनिक सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने सहित कई धाराओं में एफआईआर लिखायी गयी है।

पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल ने बताया कि छात्र नेताओं और उनके समर्थक जार्ज टाउन थाना अंतर्गत बालसन चौराहे पर महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण के लिए आए थे। बाद में उन्होंने नारेबाजी और पथराव शुरू कर दिया जिसे नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने बल प्रयोग किया था। उन्होंने बताया कि इस घटना में दो सीओ समेत कई पुलिसकर्मी घायल हो गए और पुलिस ने 50-60 प्रदर्शनकारी छात्रों को गिरफ्तार किया है तथा उन्हें पुलिस लाइन लाया गया।

उन्होंने बताया कि पथराव के कारण कई वाहनों के शीशे टूट गए। सपा नेता विजमा यादव ने बताया कि पुलिस द्वारा लाठी चार्ज में बदायूं से लोकसभा सांसद धर्मेंद्र यादव और करीब 15-20 छात्र घायल हुए हैं। लाठी चार्ज में घायल सांसद धर्मेंद्र यादव ने संवाददाताओं से कहा था ये भाजपा लोग गोडसे की विचारधारा को मानने वाले हैं और इनके लाठी चार्ज से हम घबराने वाले नहीं हैं।

इलाहाबाद की सड़कों पर बहा हुआ यह खून समाजवादी पार्टी के लिए खाद का काम करेगा और यह खून सपा की सरकार बनाने में महत्वपूर्ण योगदान करेगा। आपको बताते चले कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव को इलाहाबाद विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने से रोकने के लिए अधिकारियों ने मंगलवार को उन्हें लखनऊ हवाई अड्डे पर रोक दिया जिसको लेकर प्रदेश भर में समाजवादी पार्टी के लोगों ने जमकर हंगामा और प्रदर्शन किया था।

प्रयागराज। पुलिस और सपा के लोगों के बीच मंगलवार हुई झड़प के मामले में सपा सांसद धर्मेंद्र यादव सहित 46 नामजद और 250 अज्ञात सपाइयों पर मुकदमा दर्ज किया गया है। सांसद धर्मेन्द्र यादव, फूलपुर सांसद नागेन्द्र सिंह पटेल, प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र संघ अध्यक्ष उदय प्रकाश यादव जिला अध्यक्ष कृष्ण मूर्ति यादव समेत 46 नामजद पर एफआईआर दर्ज की गयी है। कर्नलगंज थाना अध्यक्ष सतेन्द्र सिंह की तहरीर पर मामला दर्ज हुआ है। तहरीर में छात्रों को बलवा के लिए उकसाने क़ा आरोप लगाया गया है। बलवा, तोडफ़ोड़, सार्वजनिक सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने सहित कई धाराओं में एफआईआर लिखायी गयी है। पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल ने बताया कि छात्र नेताओं और उनके समर्थक जार्ज टाउन थाना अंतर्गत बालसन चौराहे पर महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण के लिए आए थे। बाद में उन्होंने नारेबाजी और पथराव शुरू कर दिया जिसे नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने बल प्रयोग किया था। उन्होंने बताया कि इस घटना में दो सीओ समेत कई पुलिसकर्मी घायल हो गए और पुलिस ने 50-60 प्रदर्शनकारी छात्रों को गिरफ्तार किया है तथा उन्हें पुलिस लाइन लाया गया। उन्होंने बताया कि पथराव के कारण कई वाहनों के शीशे टूट गए। सपा नेता विजमा यादव ने बताया कि पुलिस द्वारा लाठी चार्ज में बदायूं से लोकसभा सांसद धर्मेंद्र यादव और करीब 15-20 छात्र घायल हुए हैं। लाठी चार्ज में घायल सांसद धर्मेंद्र यादव ने संवाददाताओं से कहा था ये भाजपा लोग गोडसे की विचारधारा को मानने वाले हैं और इनके लाठी चार्ज से हम घबराने वाले नहीं हैं। इलाहाबाद की सड़कों पर बहा हुआ यह खून समाजवादी पार्टी के लिए खाद का काम करेगा और यह खून सपा की सरकार बनाने में महत्वपूर्ण योगदान करेगा। आपको बताते चले कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव को इलाहाबाद विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने से रोकने के लिए अधिकारियों ने मंगलवार को उन्हें लखनऊ हवाई अड्डे पर रोक दिया जिसको लेकर प्रदेश भर में समाजवादी पार्टी के लोगों ने जमकर हंगामा और प्रदर्शन किया था।