जामिया में फायरिंग: कांग्रेस नेता अधीर रंजन बोले- प्रदर्शनकारियों को डराने के लिए रची साजिश

Adhir Ranjan Chaudhary
जामिया में फायरिंग: कांग्रेस नेता अधीर रंजन बोले- प्रदर्शनकारियों को डराने के लिए रची साजिश

नई दिल्ली। दिल्ली जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के पास हुई कथित फायरिंग को लेकर राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई है। विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने फायरिंग को बीजेपी की साजिश करार दिया है। लोकसभा में कांग्रेस के दल नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि भाजपा प्रदर्शनकारियों को ड़राने और धमकाने के लिए यह साजिश रच रही है। उन्होंने कहा कि बीजेपी के गुंड़े यह सब कर रहे हैं, सरकार चुप है। दिल्ली पुलिस केंद्रीय गृह मंत्रालय के अंतर्गत आती है।

Firing In Jamia Congress Leader Adhir Ranjan Said Conspiracy To Intimidate Protesters :

गौरतलब है कि रविवार रात को जामिया मिल्लिया इस्लामिया के गेट नंबर-5 पास हुई कथित फायरिंग के बाद हड़कंप मच गया था। यहां गेट नंबर 7 पर बैठे प्रदर्शन ने फायरिंग की आवाज सुनी तो यहां अफरा-तफरी मच गई। यह घटना रात करीब 11.30 बजे की बताई जा रही है। हालांकि पुलिस ने इस बात की पुष्टि नहीं की है। फयरिंग की सूचना सबसे पहले जामिया कोऑर्डिनेशन कमिटी के मीडिया ग्रुप में शेयर की गई। इसके बाद पूरे इलाके में हड़कंप मच गया।

फायरिंग को लेकर स्थानीय लोग पुख्ता दावा कर रहे हैं। वहीं दिल्ली पुलिस ने इस बात से इनकार तो नहीं किया है लेकिन एफआइआर दर्ज कर ली है। पुलिस कह रही है कि फायरिंग के बाबत उन्हें कोई सुबूत नहीं मिला है। इसके अलावा पुलिस के मुताबिक सीसीटीवी फुटेज में भी फायरिंग करते हुए कोई नजर नहीं आया है।

नई दिल्ली। दिल्ली जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के पास हुई कथित फायरिंग को लेकर राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई है। विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने फायरिंग को बीजेपी की साजिश करार दिया है। लोकसभा में कांग्रेस के दल नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि भाजपा प्रदर्शनकारियों को ड़राने और धमकाने के लिए यह साजिश रच रही है। उन्होंने कहा कि बीजेपी के गुंड़े यह सब कर रहे हैं, सरकार चुप है। दिल्ली पुलिस केंद्रीय गृह मंत्रालय के अंतर्गत आती है। गौरतलब है कि रविवार रात को जामिया मिल्लिया इस्लामिया के गेट नंबर-5 पास हुई कथित फायरिंग के बाद हड़कंप मच गया था। यहां गेट नंबर 7 पर बैठे प्रदर्शन ने फायरिंग की आवाज सुनी तो यहां अफरा-तफरी मच गई। यह घटना रात करीब 11.30 बजे की बताई जा रही है। हालांकि पुलिस ने इस बात की पुष्टि नहीं की है। फयरिंग की सूचना सबसे पहले जामिया कोऑर्डिनेशन कमिटी के मीडिया ग्रुप में शेयर की गई। इसके बाद पूरे इलाके में हड़कंप मच गया। फायरिंग को लेकर स्थानीय लोग पुख्ता दावा कर रहे हैं। वहीं दिल्ली पुलिस ने इस बात से इनकार तो नहीं किया है लेकिन एफआइआर दर्ज कर ली है। पुलिस कह रही है कि फायरिंग के बाबत उन्हें कोई सुबूत नहीं मिला है। इसके अलावा पुलिस के मुताबिक सीसीटीवी फुटेज में भी फायरिंग करते हुए कोई नजर नहीं आया है।