1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Firoza Stone Benefits : ये रत्न जिन लोगों को सूट कर जाए उनकी रातों-रात बदल जाती है किस्‍मत , हीरे के साथ नहीं पहनना चाहिए

Firoza Stone Benefits : ये रत्न जिन लोगों को सूट कर जाए उनकी रातों-रात बदल जाती है किस्‍मत , हीरे के साथ नहीं पहनना चाहिए

रत्न  देखने में सुन्दर और किस्मत बदलने वाले होते है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,रत्न जिन लोगों को सूट कर जाए उनकी रातों-रात  किस्मत बदल जाती है ।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Firoza Stone Benefits :  रत्न  देखने में सुन्दर और किस्मत बदलने वाले होते है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,रत्न जिन लोगों को सूट कर जाए उनकी रातों-रात  किस्मत बदल जाती है । रत्न के बारे में कहा जाता है कि वह रंक से राजा बनाने  में बिल्कुल समय नहीं लगाता है।एक रत्न फिरोजा  है। नीले रंग का ये रत्न गुरु का प्रतिनिधित्व करता है। इसके बारे में कहा जाता  कि ये जिन लोगों को सूट कर जाए उनकी रातों-रात किस्‍मत  बदल देता हैं। आइये जानते है इस रत्न के गुणों के बारे में।

पढ़ें :- Char Dham Yatra 2023 : चार धाम यात्रा इस दिन से शुरू होने जा रही है , केदारनाथ धाम के कपाट 26 अप्रैल खुलेंगे

फिरोजा को फ़िरोज़ी के रूप में भी जाना जाता है मूल रूप से तुर्की में पाया जाता है।यह बहुत ही सुंदर और चमत्कारी रत्‍न है।  फिरोजा रत्‍न को टरक्‍वाइज स्‍टोन भी कहते हैं। यह हल्‍के नीले रंग से गहरे हरे-नीले रंग का होता है।

फिरोजा रत्न बहुत कम ही राशि वाले लोग पहनते हैं। धनु और मीन राशि के स्‍वामी गुरु होते हैं। वैसे तो इन दोनों राशि वालों के लिए ये रत्न पहनना बहुत शुभ फल देता है। फिरोजा स्टोन में हीलिंग गुण होते हैं, इसका मतलब है कि इस स्‍टोन से धारण करने वाले का स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा रहता है। इस रत्न को बहुत पवित्र माना जाता है क्‍योंकि इससे धारणकर्ता के जीवन में पॉजिटिविटी, खुशियां, भाग्‍य, समृद्धि और उत्तम स्वास्थ्य की प्राप्ति होती है।किडनी, लिवर या इम्‍यून सिस्‍टम से संबंधित बीमारियों से ग्रस्‍त व्‍यक्ति को फिरोजा स्टोन पहनने से अत्यंत लाभ मिलता है। यह रत्न आपके इलाज को बढ़ावा देता है। यह पीलिया, टीबी और डायबिटीज जैसी कई बीमारियों के इलाज में मदद करता है।

यदि कोई व्यक्ति अपनी भावनाओं को स्पष्ट रूप से प्रकट नहीं कर पाता है, तो उसे यह फिरोजा स्टोन पहनना चाहिए। इससे कम्युनिकेशन, बोलने की क्षमता में सुधार आता है। इस रत्न के प्रभाव धारणकर्ता की बोली में मिठास आती है।आप फिरोजा स्‍टोन को अंगूठी या पेंडेंट के रूप में पहन सकते हैं। इस रत्न को चांदी की धातु में तर्जनी या अनामिका उंगली में पहनना चाहिए। इसे शुक्ल पक्ष के या किसी भी गुरुवार को पहनना चाहिए।

पढ़ें :- Abeer Ke Totake : चांदी के डिब्बे में सफेद अबीर घर में इस जगह रखेंं, काम बनने लगेंगे
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...