1. हिन्दी समाचार
  2. बिहार
  3. Bihar Budget: चुनाव के बाद पेश किया पहला बजट, जल्द खुलेंगी मेडिकल और खेल यूनिवर्सिटी

Bihar Budget: चुनाव के बाद पेश किया पहला बजट, जल्द खुलेंगी मेडिकल और खेल यूनिवर्सिटी

First Bihar Budget Presented After Elections Medical And Sports University Will Open Soon

By Manali Rastogi 
Updated Date

पटना: बिहार में हुए विधानसभा चुनाव के बाद राज्य में आज नीतीश कुमार की सरकार ने 2021-22 के लिए बजट पेश किया. विधानसभा में वित्त मंत्री के रूप में डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने पहली बार राज्य का बजट पेश किया. प्रसाद ने अपने भाषण में कहा कि बजट को सभी सेक्टर के लोगों से सुझाव लेने के बाद ही तैयार किया गया है.

पढ़ें :- तीन दिनों से लापता जमीन कारोबारी की गोली मार के हत्या, पुलिस ने साले को शक पर उठाया

अपनी बात को जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि गोवंश विकास संस्थान की स्थापना की जाएगी. यही नहीं, डिजिटल काउंसलिंग सेंटर की स्थापना विदेश में शिक्षा प्राप्त करने जाने वाले छात्रों के लिए की जाएगी. साथ ही, एमएसपी पर दलहन को खरीदने की कोशिश की जाएगी. प्रसाद ने ये भी कहा कि राज्य के बाहर काम करने वाले लोगों का पंचायतवार डेटा इकट्ठा किया जाएगा.

सरकार की ओर से ऐलान किया गया है कि 12वीं पास अविवाहित छात्रा को 25 हजार रुपये की आर्थिक मदद और स्नातक पास महिला को 50 हजार रुपये की सहायता राशि दी जाएगी. डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद ने ये भी घोषणा की कि एक मेडिकल यूनिवर्सिटी और एक अभियंत्रण विश्वविद्यालय की  स्थापना बिहार में की जाएगी. याहू नहीं, अंतरराष्ट्रीय स्पोर्ट्स स्टेडियम के साथ राजगीर में एक खेल यूनिवर्सिटी की स्थापना की जाएगी.

आपको बताते चलें कि डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि सोलर स्ट्रीट लाइट हर गांव में लगाई जाएगी. इसके लिए प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है. 2021-22 के बजट में राज्य सरकार ने इसके लिए 150 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं. इस दौरान सात निश्चिय पार्ट-2 योजना का ऐलान भी प्रसाद ने किया. इसके अलावा आज वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने 2 लाख 18 हजार 303 करोड़ रुपये का बजट पेश किया. इसमें से 1 लाख 518 करोड़ रुपये स्कीमों के लिए हैं.

साथ ही, उन्होंने ये भी कहा कि अगर कोई उद्योग कोई महिला लगाना चाहती है तो 5 लाख रुपये का अनुदान और 5 लाख रुपये ब्याज रहित के लोन को सरकार की ओर से उसे दिया जाएगा. महिला उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए रोजगार में महिलाओं को 35 फीसदी आरक्षण का प्रावधान किया गया है. डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद ने कहा कि 20 लाख से अधिक रोजगार के अवसर साल 2020 से 2025 तक सृजित किए जाएंगे, जिसके लिए 200 करोड़ रुपए उद्योग विभाग को साल 2021-22 में दिए जाएंगे.

पढ़ें :- बिहार: शराब तस्करों और पुलिस के बीच मुठभेड़, दारोगा शहीद, चौकीदार घायल

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...