J&K: अनुच्छेद 370 हटने के बाद सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई पहली मुठभेड़

jammu kashmir
जम्मू कश्मीर: पुलवामा में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ में 3 आतंकी मार गिराए

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद घाटी में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू। बता दें, आर्टिक्ल 370 हटने के बाद मंगलवार शाम को पहली बार मुठभेड़ हुई। बारामूला में हुए इस एनकाउंटर में एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर (SPO) शहीद हो गया, जबकि दूसरा घायल हो गया। सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को भी ढेर कर दिया। मंगलवार की शाम से ही शुरू हुआ ये एनकाउंटर अब पूरा हो गया है। मौके से भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद हुए हैं। मारे गए आतंकी की पहचान की जा रही है।

First Encounter Between Security Forces And Terrorists After Article 370 Was Removed :

दरअसल, श्रीनगर और बारामूला के बीच की दूरी करीब 54 किलोमीटर की है। वहीं, इस एनकाउंटर में दो से तीन आतंकियों को सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने घेर रखा था। खुद को घिरा हुआ देख आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी, जिसमें SPO बिलाल शहीद हो गए, जबकि एसआई अमरदीप परिहार घायल हो गया। फिलहाल उनका इलाज आर्मी हॉस्पिटल में चल रहा है। इस महीने की 5 तारीख को जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटा लिया गया था। इसके बाद से यहां पाबंदियों के बीच माहौल बेहद शांत था।

बता दें, आने वाले दिनों में जम्मू-कश्मीर के IAS और कश्मीर एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज (KAS) के अधिकारी, अनुच्छेद 370 हटाने से होने वाले फायदे की जानकारी कम से कम 20-20 स्थानीय परिवारों तक पहुंचाएंगे। इसके अलावा धारा 370 के हटने से स्थितियों में क्या-क्या सुधार आएगा इसका भी लेखा-जोखा अधिकारी परिवारों को देंगे। इन फायदों के बारे में बताने के लिए सरकार टीवी, रेडियो और दूसरे प्रचार माध्यमों का सहारा भी लेगी।

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद घाटी में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू। बता दें, आर्टिक्ल 370 हटने के बाद मंगलवार शाम को पहली बार मुठभेड़ हुई। बारामूला में हुए इस एनकाउंटर में एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर (SPO) शहीद हो गया, जबकि दूसरा घायल हो गया। सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को भी ढेर कर दिया। मंगलवार की शाम से ही शुरू हुआ ये एनकाउंटर अब पूरा हो गया है। मौके से भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद हुए हैं। मारे गए आतंकी की पहचान की जा रही है। दरअसल, श्रीनगर और बारामूला के बीच की दूरी करीब 54 किलोमीटर की है। वहीं, इस एनकाउंटर में दो से तीन आतंकियों को सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने घेर रखा था। खुद को घिरा हुआ देख आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी, जिसमें SPO बिलाल शहीद हो गए, जबकि एसआई अमरदीप परिहार घायल हो गया। फिलहाल उनका इलाज आर्मी हॉस्पिटल में चल रहा है। इस महीने की 5 तारीख को जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटा लिया गया था। इसके बाद से यहां पाबंदियों के बीच माहौल बेहद शांत था। बता दें, आने वाले दिनों में जम्मू-कश्मीर के IAS और कश्मीर एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज (KAS) के अधिकारी, अनुच्छेद 370 हटाने से होने वाले फायदे की जानकारी कम से कम 20-20 स्थानीय परिवारों तक पहुंचाएंगे। इसके अलावा धारा 370 के हटने से स्थितियों में क्या-क्या सुधार आएगा इसका भी लेखा-जोखा अधिकारी परिवारों को देंगे। इन फायदों के बारे में बताने के लिए सरकार टीवी, रेडियो और दूसरे प्रचार माध्यमों का सहारा भी लेगी।