Black Hole: ब्लैक होल की पहली तस्वीर आई सामने, देखें कैसा है आकार

Black Hole: ब्लैक होल की पहली तस्वीर आई सामने, देखें कैसा है आकार
Black Hole: ब्लैक होल की पहली तस्वीर आई सामने, देखें कैसा है आकार

नई दिल्ली। दुनियाभर के वैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं के लिए रहस्य बने ब्लैकहोल की पहली तस्वीर सामने आ गयी है। अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने बुधवार को भारतीय समानुसार 6 बजे ब्लैकहोल की पहली तस्वीर जारी की। आकाशगंगा एम87 में 53.5 मिलियन प्रकाश-वर्ष दूर मौजूद इस विशालकाय ब्लैक होल की तस्वीर जारी की गई है जससे गैस और प्लाजमा का नांरगी रंग का प्रकाश निकलता दिख रहा है। अंतरिक्ष के बारे में जानने और वहां की झलक देखने के लिए दुनिया भर के उत्साही लोग ब्लैकहोल की पहली वास्तविक तस्वीर का बेसब्री से इंतजार करने वाले लोगों का इंतज़ार अब खत्म हो गया। 

First Photo Of A Black Hole :

दुनिया भर में स्थित छह दूरबीनों के डेटा का उपयोग करते हुए, ईवेंट होरिजन टेलिस्कोप (ईएचटी) परियोजना में शामिल वैज्ञानिकों ने यह तस्वीर निकाली है। 

कहा जाता है कि इससे मानवीय कल्पना को अपनी ओर खींचने वाले स्पेसटाइम फैब्रिक के रहस्यमय, विकृत क्षेत्र के आकार का खुलासा हो सकता है और कई साइंस-फिक्शन फिल्में बनाने की प्रेरणा मिल सकेगी और इससे आने वाली पीढ़ियों के लिए शोध सामग्री उपलब्ध हो सकती है। 

नई दिल्ली। दुनियाभर के वैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं के लिए रहस्य बने ब्लैकहोल की पहली तस्वीर सामने आ गयी है। अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने बुधवार को भारतीय समानुसार 6 बजे ब्लैकहोल की पहली तस्वीर जारी की। आकाशगंगा एम87 में 53.5 मिलियन प्रकाश-वर्ष दूर मौजूद इस विशालकाय ब्लैक होल की तस्वीर जारी की गई है जससे गैस और प्लाजमा का नांरगी रंग का प्रकाश निकलता दिख रहा है। अंतरिक्ष के बारे में जानने और वहां की झलक देखने के लिए दुनिया भर के उत्साही लोग ब्लैकहोल की पहली वास्तविक तस्वीर का बेसब्री से इंतजार करने वाले लोगों का इंतज़ार अब खत्म हो गया। 

https://twitter.com/EU_Commission/status/1115964395782197248?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1115964395782197248&ref_url=https%3A%2F%2Fwww.livehindustan.com%2Finternational%2Fstory-watch-first-image-of-black-hole-revealed-today-2483610.html

दुनिया भर में स्थित छह दूरबीनों के डेटा का उपयोग करते हुए, ईवेंट होरिजन टेलिस्कोप (ईएचटी) परियोजना में शामिल वैज्ञानिकों ने यह तस्वीर निकाली है। 

कहा जाता है कि इससे मानवीय कल्पना को अपनी ओर खींचने वाले स्पेसटाइम फैब्रिक के रहस्यमय, विकृत क्षेत्र के आकार का खुलासा हो सकता है और कई साइंस-फिक्शन फिल्में बनाने की प्रेरणा मिल सकेगी और इससे आने वाली पीढ़ियों के लिए शोध सामग्री उपलब्ध हो सकती है।