1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. पहले भीख मांगती थी फिर धमकी देकर लूटती थी पैसे, दिल्ली पुलिस ने हौज खास में गिरफ्तार किया गिरोह

पहले भीख मांगती थी फिर धमकी देकर लूटती थी पैसे, दिल्ली पुलिस ने हौज खास में गिरफ्तार किया गिरोह

First She Was Begging And Then Used To Rob Money By Threatening Delhi Police Arrested Gang In Hauz Khas

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने लोगों को लूटने वाली चार महिलाओं को गिरफ्तार किया है। ये महिलाएं भीख मांगने की आड़ में लोगों को लूटा करती थी और उनपर हमला भी कर देती थी। दिल्ली पुलिस के अनुसार उनके पास लूटपाट की शिकायत आई थी। जिसके बाद पुलिस ने इस गिरोह को पकड़ा लिया है। पुलिस ने बताया कि 30 अक्टूबर को 64 वर्षीय महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी। इस महिला ने पुलिस को बताया था कि उसके साथ लूटपाट की गई है।

पढ़ें :- मई 2024 तक प्रदर्शन करने को तैयार किसान, ट्रैक्टर रैली पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

हौज खास इलाके में अरबिंदो मार्ग पर महिला से पैसे लूटे गए थे। पुलिस के अनुसार दोपहर करीब 12.20 बजे महिला अपनी कार में अकेली बैठी थी जब उसका बेटा जांच के लिए पैथोलॉजी लैब के अंदर गया था। इस दौरान चार महिलाए उसकी कार के पास आई और उससे पैसे मांगने लगी। बुजुर्ग महिला ने इन महिलाओं की मदद के लिए उन्हें पांच रुपए देने की कोशिश की। लेकिन वे नहीं मानी और अधिक पैसे मांगने लगी।

फिर बुजुर्ग महिला ने उनको 50 रुपए देने चाहे। तब पैसे मांगने वाली एक महिला ने उसे डराया और कहा कि सबसे बड़ा नोट दे, वरना उसे मार दिया जाएगा। जिसके बाद बुजुर्ग महिला ने 500 रुपये का नोट निकाला इन्हें दे दिया।

बुजुर्ग महिला ने इस घटना की शिकायत तुरंत पुलिस से की। जिसके बाद पुलिस ने हौज खास से इन महिलाओं को पकड़ा है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने इस घटना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि हमले के डर से बुजुर्ग महिला ने 500 रुपये का नोट निकालकर इन महिलाओं को दे दिया था। जिसके बाद महिलाएं मौके से फरार हो गई। बुजुर्ग महिला ने तुरंत पीसीआर को फोन लगाया।

आरोपी महिलाओं की तलाश की गई और उन्हें हौज खास बाजार में देखा गया। जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया और उनके पास से लूट के 500 रुपये भी बरामद किए गए। पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) अतुल कुमार ठाकुर के अनुसार इनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। महिलाओं को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। पूछताछ में पता चला है कि ये महिलाएं बिहार के एक गांव से हैं और यहां निजामुद्दीन में रह रही थीं।

पढ़ें :- दिल्ली पुलिस का चार्जशीट में दावा- दंगों के लिए ताहिर हुसैन ने फर्जी बिल बनाकर इकट्ठे किए थे पैसे

गौरतलब है कि ऐसे कई मामले देखने को मिलें हैं। जहां पर लोगों से पैसे मांगने की आड़ में उनसे लूटपाट की जाती है। उन्हें बातों में लगाया जाता है और फिर उनसे पैसे लूट लिए जाते हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...