चिन्मयानंद और छात्रा सहित पांचो आरोपी लाए गए लखनऊ , आवाज के नमूनों की होगी जांच

chinmayanand
चिन्मयानंद और छात्रा सहित पांचो आरोपी लाए गए लखनऊ , आवाज के नमूनों की होगी जांच

लखनऊ। लॉ कॉलेज की छात्रा से यौन शोषण और दुष्कर्म के आरोपी स्वामी चिन्मयानंद और फिरौती मांगने के मामले में छात्रा व उसके साथी शाहजहांपुर जेल में बंद हैं। आपको बता दें कि इस प्रकरण के कई वीडियो वायरल हुए जिनमें छात्रा अपने दोस्तों के साथ फिरौती की रकम पर बातचीत करती नजर आ रही है। इसके अलावा कुछ वीडियो में चिन्मयानंद छात्रा से मालिस कराते दिख रहे हैं।
वीडियो और आरोपियों की आवाज के मिलान के लिए एसआईटी की मांग पर चिन्मयानंद और छात्रा समेत सभी आरोपियों को बुधवार सुबह कड़ी सुरक्षा में लखनऊ के फोरेंसिक लैब ले जाया गया। गौरतलब है कि इन चौंकाने वाले वीडियो ने पूरे मामले की अबतक की जांच के दौरान बड़े खुलासे किए, जिसके बाद एसआईटी ने अदालत से लिखित रूप में सभी आरोपियों की आवाज मिलान करने की अनुमति मांगी थी।

Five Accused Including Chinmayanand And Student Brought To Lucknow Voice Samples Will Be Examined :

शुक्रवार को कोर्ट ने एसआईटी की अर्जी को मंजूरी दे दी थी, जिसके बाद आज वीडियो की आवाज के साथ सभी आरोपियों की असल आवाज का मिलान किया जाएगा। इसी आधार पर वीडियो की प्रमाणिकता भी साबित होगी। हालांकि इससे पहले सभी वीडियो की फॉरेंसिक जांच करवाई जा चुकी है।

वायरल वीडियो बनेंगे अहम साक्ष्य

दुष्कर्म और रंगदारी प्रकरण की जांच कर रही एसआइटी का दावा है कि जांच के दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद, छात्रा और तीनों युवकों ने वीडियो में अपनी मौजूदगी स्वीकारी है। विधि विज्ञान प्रयोगशाला (एफएसएल) की जांच में भी वीडियो सही पाए गए हैं। उनसे टेंपरिंग या एडिटिंग की बात सामने नहीं आई है, लेकिन जो आवाज इन वीडियो क्लिप में है वह आरोपितों की ही है इसे साबित करने के लिए उनका वॉयस सैंपल टेस्ट होना जरूरी है।

कई वीडियो हुए थे वायरल

लॉ की छात्रा से दुष्कर्म और यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद चिन्मयानंद के कुछ आपत्तिजनक वीडियो 10 सितंबर को वायरल हुए थे। उसी दिन शाम को एक और वीडियो वायरल हुआ था, जो चिन्मयानंद से रंगदारी मांगे जाने के मामले से संबंधित बताया जा रहा है। इसमें छात्रा और उसके दोस्त संजय के अलावा सचिन व विक्रम की बातचीत भी है। वहीं, इससे जुड़ा एक और वीडियो 26 सितंबर को वायरल हुआ था।

लखनऊ। लॉ कॉलेज की छात्रा से यौन शोषण और दुष्कर्म के आरोपी स्वामी चिन्मयानंद और फिरौती मांगने के मामले में छात्रा व उसके साथी शाहजहांपुर जेल में बंद हैं। आपको बता दें कि इस प्रकरण के कई वीडियो वायरल हुए जिनमें छात्रा अपने दोस्तों के साथ फिरौती की रकम पर बातचीत करती नजर आ रही है। इसके अलावा कुछ वीडियो में चिन्मयानंद छात्रा से मालिस कराते दिख रहे हैं। वीडियो और आरोपियों की आवाज के मिलान के लिए एसआईटी की मांग पर चिन्मयानंद और छात्रा समेत सभी आरोपियों को बुधवार सुबह कड़ी सुरक्षा में लखनऊ के फोरेंसिक लैब ले जाया गया। गौरतलब है कि इन चौंकाने वाले वीडियो ने पूरे मामले की अबतक की जांच के दौरान बड़े खुलासे किए, जिसके बाद एसआईटी ने अदालत से लिखित रूप में सभी आरोपियों की आवाज मिलान करने की अनुमति मांगी थी। शुक्रवार को कोर्ट ने एसआईटी की अर्जी को मंजूरी दे दी थी, जिसके बाद आज वीडियो की आवाज के साथ सभी आरोपियों की असल आवाज का मिलान किया जाएगा। इसी आधार पर वीडियो की प्रमाणिकता भी साबित होगी। हालांकि इससे पहले सभी वीडियो की फॉरेंसिक जांच करवाई जा चुकी है।

वायरल वीडियो बनेंगे अहम साक्ष्य

दुष्कर्म और रंगदारी प्रकरण की जांच कर रही एसआइटी का दावा है कि जांच के दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद, छात्रा और तीनों युवकों ने वीडियो में अपनी मौजूदगी स्वीकारी है। विधि विज्ञान प्रयोगशाला (एफएसएल) की जांच में भी वीडियो सही पाए गए हैं। उनसे टेंपरिंग या एडिटिंग की बात सामने नहीं आई है, लेकिन जो आवाज इन वीडियो क्लिप में है वह आरोपितों की ही है इसे साबित करने के लिए उनका वॉयस सैंपल टेस्ट होना जरूरी है।

कई वीडियो हुए थे वायरल

लॉ की छात्रा से दुष्कर्म और यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद चिन्मयानंद के कुछ आपत्तिजनक वीडियो 10 सितंबर को वायरल हुए थे। उसी दिन शाम को एक और वीडियो वायरल हुआ था, जो चिन्मयानंद से रंगदारी मांगे जाने के मामले से संबंधित बताया जा रहा है। इसमें छात्रा और उसके दोस्त संजय के अलावा सचिन व विक्रम की बातचीत भी है। वहीं, इससे जुड़ा एक और वीडियो 26 सितंबर को वायरल हुआ था।