मानकों को ताख पर रखकर हो रहा होटलों का कारोबार, लाखों जिंदगियां दांव पर

naka hotel 1
मानकों को ताख पर रखकर हो रहा होटलों का कारोबार, लाखों जिंदगियां दांव पर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सोमवार रात होटल कारोबारियों और सम्बंधित विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत का खामियाजा पांच लोगों को अपनी जान गंवाकर चुकाना पड़ा। हुआ यूं कि चारबाग के नाका स्थित होटल विराट इंटरनेशनल और एसएसजे इंटरनेशनल में सोमवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे भीषण आग लग गई। आग लगते ही वहां हड़कंप मच गया। अग्निशमन यंत्र और इमरजेंसी एक्जिट न होने के चलते लोग आग में ही फंस गए। भीड़भाड़ वाले इलाके में स्थित होने के चलते दमकल की गाड़ियों को भी वहां पहुंचने में काफी दिक्कत हुई। काफी देर बाद किसी तरह दमकल के वाहन होटल के पास पहुंचे और आग पर काबू पाने का प्रयास शुरु हुआ। तब दर्जनों लोग आग की चपेट में आकर झुलस गए। पुलिस ने वहां फंसे लोगों को बाहर निकाला और तुरन्त अस्पताल पहुंचाया, जहां एक मासूम बच्ची समेत पांच लोगों की मौत हो गई।

naka hotel

{ यह भी पढ़ें:- ये हैं यूपी पुलिस के आशिक मिजाज दरोगा, फोन पर जबरन करते हैं अश्लील बातें }

बता दें कि राजधानी लखनऊ समेत प्रदेश के कई बड़े महानगरों में अधिकारियों की मिलीभगत से अवैध होटलों का कारोबार धडल्ले से हो रहा है। इसका खुलासा तब हुआ जब जागरूक लोगों ने सम्बंधित विभागों से आरटीआई के माध्यम से जानकारी मांगी। इसमे खुलासा हुआ कि पूरे प्रदेश में सिर्फ पंद्रह होटल ऐसे हैं, जिनके पास सभी विभागों से एनओसी मिली हुई है। राजधानी लखनऊ की बात करें तो यहां सिर्फ होटल अवध क्लार्क और होटल गेटवे ऐसे हैं, जिनके पास सभी विभागों की एनओसी मौजूद है।

बताया जा रहा है कि होटल में ठहरे मुसाफिरों की कार में भी आग लगने से विस्फोट हुआ है। आग लगने से दोनों होटलों के पास के दो और होटल भी आग की चपेट में आये हैं। आग लगने की सूचना मिलते ही एसएसपी दीपक कुमार पुलिस अफसरों के अलावा फायर ब्रिगेड के जवानो के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने दमकलकर्मियों के साथ आग बुझाने का प्रयास शुरु किया हालाकि तब तक वहां ठहरे लोगों की लाखों की सम्पत्ति जलकर राख हो गई। काफी देर बाद फायर फाइटिंग टीम के जवानों ने आग पर काबू पाया। बताया जा रहा है कि होटल में आग बुझाने के कोई उपकरण मौजूद नहीं थे। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की पड़ताल कर रही है।

{ यह भी पढ़ें:- रहने के लिहाज से देश में 73वें स्थान पर है लखनऊ, ये है बाकी शहरों की स्थिती }

सभी एक्जिट प्वाइंट पर आग का कब्जा

बताया जा रहा है कि होटल विराट इंटरनेशनल और एसएसजे होटल में Emergency Exit नहीं है। अगर कोई घटना घाटी तो छत पर जाने के बाद ही एक गेट से बाहर निकलना पड़ेगा। आज हुए अग्निकांड में भी लोग बाहर निकलने के लिए इधर उधर भागते रहे लेकिन कोई बाहर नहीं निकल पाया। सोमवार को यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा होने के चलते वहां सैकड़ों की संख्या में छात्रों के साथ ही गैर प्रदेशों से आए लोग ठहरे हुए थे, जो घटना के बाद जान बचाने के लिए इधर—ऊधर भागते रहे। बता दें कि अग्निकांड के बाद कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी समेत कई बड़े नेता मौके पर पहुंचे और अधिकारियों को होटल के पंजीकरण से लेकर अन्य दस्तावेजों की जांच के आदेश दिए। ​यही नही उसमे खामी पाए जाने पर होटल संचालकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के भी आदेश दिए।

पैसा लेकर दी जाती है एनओसी

इस दर्दनाक हादसे के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। आसपास के होटल मालिकों के अलावा स्थानीय लोगों का वहां जमावड़ा लगा रहा। स्थानीय लोगोें ने बताया कि यहां छोटी—मोटी घटनाएं होती ही रहती है। उन लोगों ने कई बार होटलों की मनमानी ​की शिकायत अधिकारियों से भी की। लोगों का आरोप हैं कि होटल संचालक एलडीए और अग्निशम विभाग को लाखों रूपए देकर एनओसी ले लेते हैं। फिलहाल घटना के बाद से ही होटल मालिक फरार है। पुलिस टीम उनकी तलाश कर रही है। एसएसपी दीपक कुमार के मुताबिक होटल मालिक के मिलने पर पूछताछ की जाएगी और कोई भी खामी पाए जाने पर उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

चिंगारियों ने ले लिया विकराल रूप

बता दें कि नाका थाना क्षेत्र के चारबाग गुप्ता नगर में मुस्लिम मुसाफिरखाना के पास दूध मंडी रोड पर 46/46A में Hotel SSJ International और इसके ठीक बगल में 46-C Hotel Viraat International है। होटलों के बेसमेंट में ही BAR है। होटल में रूके लोगों की मानें तो सुबह करीब 5:30 बजे विराट होटल में शार्ट सर्किट से चिंगारियां निकलने लगी और देखते ही देखते आग ने पूरे होटल को अपनी जद में ले लिया। ये देख होटलों में ठहरे लोग भागने चिल्लाते हुए भागने लगे। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो होटल की पार्किंग में खड़ी पर्यटकों की कार में विस्फोट हुआ और वह भी धू-धू कर जलने लगी।

{ यह भी पढ़ें:- लखनऊ : पुराने शहर को जल्द ही मिलेगी जाम के झाम से मुक्ति }

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सोमवार रात होटल कारोबारियों और सम्बंधित विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत का खामियाजा पांच लोगों को अपनी जान गंवाकर चुकाना पड़ा। हुआ यूं कि चारबाग के नाका स्थित होटल विराट इंटरनेशनल और एसएसजे इंटरनेशनल में सोमवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे भीषण आग लग गई। आग लगते ही वहां हड़कंप मच गया। अग्निशमन यंत्र और इमरजेंसी एक्जिट न होने के चलते लोग आग में ही फंस गए। भीड़भाड़ वाले इलाके में स्थित होने…
Loading...