1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. गहलोत सरकार के राज्य में पानी बिना पांच साल की बच्ची की मौत, केंद्रीय मंत्री ने उठाया सवाल

गहलोत सरकार के राज्य में पानी बिना पांच साल की बच्ची की मौत, केंद्रीय मंत्री ने उठाया सवाल

राजस्थान में एक दिल को झकझोर देने वाली घटना सामने आई है। यहां पर पानी नहीं मिलने के कारण पांच साल की मासूम ने तड़प तड़प के दम तोड़ दिया है। वहीं, मासूम बच्ची के पास उसकी नानी भी बेहाशी के हालत में पड़ी हुई थी। वहीं, इस घटना के बाद अब राजनीति शुरू हो गयी है। इसके साथ ही गहलोत सरकार पर सवाल उठने लगे हैं। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने घटना को शर्मनाक बताते हुए गहलोत सरकार और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को घेरा।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Five Year Old Girl Died Without Water In Gehlot Governments State Union Minister Raised Questions

जयपुर। राजस्थान में एक दिल को झकझोर देने वाली घटना सामने आई है। यहां पर पानी नहीं मिलने के कारण पांच साल की मासूम ने तड़प तड़प के दम तोड़ दिया है। वहीं, मासूम बच्ची के पास उसकी नानी भी बेहाशी के हालत में पड़ी हुई थी। वहीं, इस घटना के बाद अब राजनीति शुरू हो गयी है। इसके साथ ही गहलोत सरकार पर सवाल उठने लगे हैं। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने घटना को शर्मनाक बताते हुए गहलोत सरकार और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को घेरा।

पढ़ें :- राजस्थान में नहीं थमा सियासी घमासान: गहलोत ने बुलाई विधायकों की बैठक, बन सकती है ये रणनीति

केंद्रीय मंत्री ने पूछा कि अब राजस्थान सरकार, सोनिया और राहुल चुप क्यों हैं? मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यह दर्दनाक घटना जालोर जिले के रानीवाड़ा क्षेत्र के रोड़ा गांव में रविवार को हुई बताई जा रही है। यहां रविवार को दोपहर में करीब 45 डिग्री की तेज धूप में पानी नहीं मिलने की वजह से मासूम बच्ची अंजली ने दम तोड़ दिया। उसकी नानी सुखी देवी बेहोशी की हालत में उसके पास पड़ी मिलीं।

स्थानीय लोगों ने जब पुलिस को इसकी सूचना दी तो उसने बुजुर्ग महिला को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया। जानकारी के मुताबिक, सुखी देवी अपनी नातिन अंजलि के साथ सिरोही के पास रायपुर से दोपहर में रानीवाड़ा क्षेत्र के डूंगरी स्थित अपने घर आ रही थीं। कोरोना काल के चलते वाहनों की आवाजाही बंद होने के कारण उन्हें कोई साधन नहीं मिला।

इस पर वह अपनी पांच वर्षीय नातिन के साथ पैदल ही अपने गांव चल पड़ीं। करीब 20 से 25 किलोमीटर का सफर तय करने से दोनों बुरी तरह से थक गई थीं। इसी दौरान रेतीले धोरों में दोनों प्यास से बेहाल हो गईं। पानी न मिलने से रोड़ा गांव के पास जहां मासूम अंजलि की मौत हो गई। वहीं सुखी देवी बेहोश होकर गिर गईं।

 

पढ़ें :- सचिन पायलट को बीजेपी का ऑफर, 'इंडिया फर्स्ट' को प्राथमिकता देने वालों का है स्वागत

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X