फीवर और इन्फेक्शन से दूर रखेंगी आपको ये बातें

mm

Fiver Aur Infection Se Door Rakhengi Aapako Ye Baaten

नई दिल्ली।  मॉनसून में त्वचा संबन्धित समस्याएँ या फिर सर्दी ज़ुखाम जैसी अनेक समस्याएँ सामने आती ही रहती हैं। ऐसे में अपना व अपने परिवार का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। इसीलिए सौन्दर्य व मेकअप विशेषज्ञ आशमीन मुंजाल व ‘मी क्लीनिक’ की त्वचा विशेषज्ञ रिद्धी आर्या ने मॉनसून में ध्यान रखने के लिए कुछ सुझाव दिये हैं।

बारिश में भीगने के बाद साफ पानी से नहाना न भूलें, इससे संक्रमण से सुरक्षित रहा जा सकता है।

बारिश के पानी में अनेक प्रदूषक होते हैं जो आपके बालों को रूखा व बेजान बना सकते हैं।इसके लिए ज़रूरी है कि आप बारिश में भीगने के बाद शैम्पू से अपने बालों को धोएँ व हफ्ते में एक बार तेल अवश्य लगाएँ।

मोमस्सों के मौसम में त्वचा तेलीय व चिपचिपी हो जाती है इसीलिए अपने पास टिशू पेपर या ब्लौटिंग पेपर हमेशा रखें जिससे आपकी त्वचा दानों से सुरक्षित रहेगी।

बारिश के पानी में बैक्टीरिया पनपते हैं जिससे सर्दी बुखार का अंदेशा रहता है। इसीलिए अपने पास हैंड सैनिटाइज़र हमेशा रखें।

बारिश में गंदे पानी में चलने से बचें,गंदे पानी से आपके पैरों में फंगल इन्फेक्शन का खतरा बढ़ जाता है।

इन्फेक्शन से बचने के लिए अपने फुटवियर में थोड़ा सा टैल्कम पाउडर छिड़क लें।

 

नई दिल्ली।  मॉनसून में त्वचा संबन्धित समस्याएँ या फिर सर्दी ज़ुखाम जैसी अनेक समस्याएँ सामने आती ही रहती हैं। ऐसे में अपना व अपने परिवार का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। इसीलिए सौन्दर्य व मेकअप विशेषज्ञ आशमीन मुंजाल व ‘मी क्लीनिक’ की त्वचा विशेषज्ञ रिद्धी आर्या ने मॉनसून में ध्यान रखने के लिए कुछ सुझाव दिये हैं। बारिश में भीगने के बाद साफ पानी से नहाना न भूलें, इससे संक्रमण से सुरक्षित रहा जा सकता है। बारिश के पानी में अनेक प्रदूषक होते…