उत्तर भारत में कोहरे की दस्तक, शीत लहर ने बढ़ाई ठंड

उत्तर भारत में कोहरे की दस्तक, शीत लहर ने बढ़ाई ठंड

लखनऊ। हिमाचल और ​उत्तराखंड के कई इलाकों में पिछले सप्ताह शुरू हुई बर्फबारी ने निचले इलाकों में अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। मंलगवार की सुबह उत्तर प्रदेश कोहरे की चादर में लिपटा नजर आया तो, दो दिनों से हवा में बढ़ती ठंडक कुछ ठिठुरन बढ़ाती नजर आई। मौसम विज्ञान के जानकारों की माने तो उत्तर भारत में सर्दी कुछ 15 दिनों की देरी से दस्तक दे रही है, लेकिन इसका असर उतनी ही देर तक रहने वाला होगा।

अगर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की बात की जाए तो लखनऊ में मंगलवार की सुबह घना कोहरा देखने को मिला। लखनऊ के बाहरी इलाकों में दिन भर धुंध छाया रहा। बदली के बीच हल्की फुल्की धूप जरूर खिली लेकिन ठंड़ी हवाओं ने लोगों को पिछले दिनों की अपेक्षा अधिक ठंड का अहसास करवाया।

{ यह भी पढ़ें:- बोलेरो सवार बदमाशों ने तमंचे की नोक पर अंजाम दी लूट }

उम्मीद की जा रही है कि आने वाले तीन से चार दिनों में उत्तर प्रदेश में शीतलहर का प्रभाव बढ़ेगा। आने वाले एक दो दिनों तक आसमान पर बादल छाए रहने की संभावना है। हवाओं में भी ठंडक बढ़ने के पूरे आसार हैं।

अगर मध्य प्रदेश की बात की जाए तो सर्द हवाओं ने यहां असर दिखाना शुरू कर दिया है। दिल्ली में भी शीतलहर का असर बढ़ गया है। दिल्ली के तापमान में भी गिरावट दर्ज की जा चुकी है।

{ यह भी पढ़ें:- दिल्ली: ठंड से मरने वालों के लिए केजरीवाल ने उपराज्यपाल को जिम्मेदार ठहराया }

कई ट्रेनें रद्द —

सर्दी के मौसम में कोहरे ने अभी अपना प्रभाव पूरी तरह से दिखाना भी शुरू नहीं किया है, लेकिन रेलवे की संचालन व्यवस्था प्रभावित होने लग गई है। उत्तर प्रदेश से दिल्ली और उत्तराखंड जाने वाली ट्रेनें अपने नियत समय से कई कई घंटे देरी से चल रहीं हैं। संचालन को सुचारु रखने के लिए रेलवे ने अपनी कई ट्रेनों को रद्द कर दिया है। कई साप्ताहिक और लोकल ट्रेने अनिश्चित काल के लिए रद्द की गईं हैं। रेलवे एप्प से मिली जानकारी के मुताबिक ​अब तक 307 ट्रेनें रद्द चल रहीं हैं जबकि 96 ट्रेनों के रूट को छोटा किया गया है या फिर आंशिक रूप से निरस्त किया गया है।

 

{ यह भी पढ़ें:- घर मे घुसकर नाबालिग से छेड़छाड़, विरोध पर मारपीट के बाद फायरिंग }

Loading...