1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. कोहरे की चादर में लिपटा उत्तर भारत, सड़कों पर धीमी हुई रफ्तार, उत्तराखंड में बर्फबारी के आसार

कोहरे की चादर में लिपटा उत्तर भारत, सड़कों पर धीमी हुई रफ्तार, उत्तराखंड में बर्फबारी के आसार

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश और बिहार समेत कई अन्य राज्यों में पिछले कुछ दिनों से कोहरे का गिरना लगातार जारी है। कोहरे की चादर में लिपटे होने से सड़कों पर रफ्तार धीमी हो गई है। वहीं उत्तराखंड में आज और कल बर्फबारी व बारिश के आसार हैं। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत गोरखपुर, वाराणसी और कानपुर में घना कोहरा छाया है। सड़कों पर गाड़ियां थम-थम कर चल रही हैं। दृश्यता काफी कम हो गई है। स्थिति यह है कि कुछ कदम दूर ही दिखाई नहीं पड़ रहा। मौसम विभाग का कहना है कि कोहरे का कहर 14 दिसंबर तक जारी रहने की संभावना है।

पढ़ें :- Corona new variant: ओमिक्रॉन वैरिएंट पर वैक्सीन कितना है प्रभावी, जानिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने क्या कहा?

कमोबेश यहीं हाल बिहार के शहरों का भी है। सुबह नींद से उठने के साथ ही लोगों को कोहरे का दर्शन हुआ। पिछले दो दिन सूर्य की किरणें नहीं दिखी हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि आज भी भगवान सूर्य के दर्शन होने की संभावना कम है। कोहरे का असर ट्रेन और फ्लाइट पर भी पड़ा है। वहीं किसानों को अपनी फसल की चिंता सता रही है। कोहरे के कारण खेती के काम नियमित रूप से नहीं हो पा रहे हैं।

खराब मौसम के असर का शिकार गुरुवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी हुए। आजमगढ़ का उनका कार्यक्रम रद्द कर दिया गया। वे 5876 करोड़ की लागत वाले गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे निर्माण की प्रगति की समीक्षा करने वाले थे। मुख्यमंत्री को जिला मुख्यालय से 45 किलोमीटर दूर अतरौलिया के मड़ोही मदियापार में 91 किलोमीटर की इस परियोजना के पैकेज दो की समीक्षा करनी थी।

कोहरे के कहर के बीच लोगों को रात में ठंड से राहत मिल रही है लेकिन दिन का तापमान गिर रहा है। गुरुवार को पटना का अधिकतम तापमान सुधरा और 21.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान अब भी सामान्य से चार डिग्री ऊपर 15 डिग्री सेल्सियस पर बना हुआ है। गया में 13.6 जबकि भागलपुर और पूर्णिया में 16.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसमविद अब अध्ययन में लगे हैं कि आखिर तमाम संतुलित परिस्थतियों के बाद भी न्यूनतम तापमान क्यों नहीं नीचे आ रहा। न्यूनतम पारे से ही ठंड की स्थिति का पता चलता है।

वहीं उत्तराखंड में आज और कल बारिश व बर्फबारी की संभावना है। हालांकि यहां भी मैदानी इलाकों में कोहरे का असर साफ तौर पर देखा जा सकता है। मौसम केन्द्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि शुक्रवार की देर रात से अगले 12 घंटों में गढ़वाल क्षेत्र में कहीं-कहीं ओलावृष्टि, आकाशीय बिजली गिरने की संभावना है। 12 दिसम्बर को भी यही स्थिति बनी रहेगी। तीन हजार मीटर से ऊंचे स्थानों पर हिमपात होगा। 12 को 2500 मीटर की ऊंचाई वाले स्थानों पर बर्फबारी और निचले स्थानों पर बारिश हो सकती है।

पढ़ें :- केशव मौर्य बोले- लुंगी और जालीदार टोपी वाले गुंडों से बीजेपी ने दिलाई निजात

इसके साथ ही हरिद्वार, ऊधमसिंहनगर जिलों में 13 व 14 दिसंबर को कोहरा छाने की संभावना है। गुरुवार को देहरादून में अधिकतम तापमान 27.2 डिग्री दर्ज किया गया, जो सामान्य से पांच डिग्री अधिक है। न्यूनतम तापमान 11.4 दर्ज किया गया जो सामान्य से तीन डिग्री अधिक है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...