चारा घोटाले के दुमका ट्रेजरी मामले में लालू को 14 साल की सजा, 60 लाख का जुर्माना

Lalu Prasad Yadav, लालू
चारा घोटाले के दुमका ट्रेजरी मामले में लालू को 14 साल की सजा, 60 लाख का जुर्माना
रांची। चारा घोटाले की सुनवाई कर रही रांची की सीबीआई विशेष अदालत ने शनिवार को दुमका ट्रेजरी से अवैध निकासी मामले में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को आईपीसी और पीसी एक्ट की अलग—अलग धाराओं में कुल 14 साल जेल की सजा सुनाई है। अदालत ने आईपीसी एक्ट के तहत 7 साल की सजा और 30 लाख के जुर्माने की सजा और पीसी एक्ट के तहत 7 साल की सजा और 30 लाख का जुर्माना अलग से सुनाया है। ये…

रांची। चारा घोटाले की सुनवाई कर रही रांची की सीबीआई विशेष अदालत ने शनिवार को दुमका ट्रेजरी से अवैध निकासी मामले में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को आईपीसी और पीसी एक्ट की अलग—अलग धाराओं में कुल 14 साल जेल की सजा सुनाई है।

अदालत ने आईपीसी एक्ट के तहत 7 साल की सजा और 30 लाख के जुर्माने की सजा और पीसी एक्ट के तहत 7 साल की सजा और 30 लाख का जुर्माना अलग से सुनाया है। ये दोनों ही सजाएं एक के बाद एक काटनी पड़ेंगी। जुर्माना न भरने की स्थिति में एक—एक यानी दो सालों की सजा बढ़ जाएगी।

{ यह भी पढ़ें:- इस होटल में हो रही तेजप्रताप-ऐश्वर्या की सगाई, राबड़ी बोली- मेरी बहू संस्कारी और सुशील है }

इस मामले में लालू का पक्ष रख रहे वकील ने कहा है कि अदालत के आदेश की कॉपी अभी तक प्राप्त नहीं हुई है। अदालत के आदेश कॉपी प्राप्त होने के बाद ही स्पष्ट होगा कि दोनों सजाएं एक साथ चलेंगी या फिर अलग—अलग।

आपको बता दें कि चारा घोटाले के 54 मामलों में से यह चौथा मामला है जिसमें लालू प्रसाद यादव को सजा सुनाई गई है। अब तक के मामलों में लालू प्रसाद यादव को अधिकतम 5 साल की सजा हुई है। जिसके चलते वह इन दिनों जेल में हैं, और स्वास्थ्य कारणों से रांची के रिम्स अस्पताल में अपना इलाज करवा रहे हैं।

{ यह भी पढ़ें:- कठुआ गैंगरेप-मर्डर : अब्दुल्ला ने PM मोदी की चुप्पी पर उठाया सवाल }

Loading...