पहली बार दो महिला एस्ट्रोनॉट्स 29 मार्च को करेंगी स्पेसवॉक

female astronauts
पहली बार दो महिला एस्ट्रोनॉट्स 29 मार्च को करेंगी स्पेसवॉक

नई दिल्ली। वैज्ञानिक आए दिन कोई न कोई खोज करते ही रहते है। इस बार इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (आईएसएस) से पहली बार दो महिला एस्ट्रोनॉट्स स्पेस वॉक करेंगी। यह स्पेसवॉक 29 मार्च को होगा। नासा ने भी इसकी पुष्टि की है।

For The First Time Two Female Astronauts Will Do The Space Walk :

बता दें,जो दो एस्ट्रोनॉट्स को स्पेसवॉक में हिस्सा लेना है, उनमें से एक एन मैक्क्लेन और क्रिस्टीना कोश हैं। इन दोनों को मार्गदर्शन और समर्थन कनाडा स्पेस एजेंसी की फ्लाइट कंट्रोलर क्रिस्टन फैसिओल देंगी। क्रिस्टन जल्द ही नासा के ह्यूस्टन स्थित जॉनसन स्पेस सेंटर में जॉइन करेंगी। वहीं हाल ही में क्रिस्टन ने ट्वीट के जरिए बताया कि ‘पहली बार दो महिलाएं स्पेसवॉक करने वाली हैं। उन्हें सपोर्ट करने का जिम्मा मुझे सौंपा गया है। मैं अपनी खुशी छिपा नहीं पा रही।’

दरअसल नासा की प्रवक्ता स्टीफेनी शीयरहोल्ज ने जानकारी दी कि अब तक की अनुसूची के मुताबिक 29 मार्च को स्पेसवॉक किया जाएगा। ये पहली बार है कि स्पेसवॉक में सभी महिला एस्ट्रोनॉट्स ही होंगी। ऐन 22 मार्च को निक हेग के साथ एक स्पेस वॉक में हिस्सा लेंगी। महिला स्पेसवॉकर्स के अलावा लीड फ्लाइट डायरेक्टर मैरी लॉरेंस और जैकी कैगी फ्लाइट कंट्रोलर होंगी।

बता दें कि नासा का कहना है कि स्पेसवॉक कई वजहों से किया जाता है, जिसमें स्पेसक्राफ्ट की मरम्मत, वैज्ञानिक प्रयोग और फिर नए उपकरणों का परीक्षण होता है। अंतरिक्ष में मौजूद बिगड़े सैटेलाइट या स्पेसक्राफ्ट को धरती पर लाने की बजाय वहीं ठीक करने के लिए स्पेसवॉक की जाती है।

नई दिल्ली। वैज्ञानिक आए दिन कोई न कोई खोज करते ही रहते है। इस बार इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (आईएसएस) से पहली बार दो महिला एस्ट्रोनॉट्स स्पेस वॉक करेंगी। यह स्पेसवॉक 29 मार्च को होगा। नासा ने भी इसकी पुष्टि की है।

बता दें,जो दो एस्ट्रोनॉट्स को स्पेसवॉक में हिस्सा लेना है, उनमें से एक एन मैक्क्लेन और क्रिस्टीना कोश हैं। इन दोनों को मार्गदर्शन और समर्थन कनाडा स्पेस एजेंसी की फ्लाइट कंट्रोलर क्रिस्टन फैसिओल देंगी। क्रिस्टन जल्द ही नासा के ह्यूस्टन स्थित जॉनसन स्पेस सेंटर में जॉइन करेंगी। वहीं हाल ही में क्रिस्टन ने ट्वीट के जरिए बताया कि 'पहली बार दो महिलाएं स्पेसवॉक करने वाली हैं। उन्हें सपोर्ट करने का जिम्मा मुझे सौंपा गया है। मैं अपनी खुशी छिपा नहीं पा रही।'

दरअसल नासा की प्रवक्ता स्टीफेनी शीयरहोल्ज ने जानकारी दी कि अब तक की अनुसूची के मुताबिक 29 मार्च को स्पेसवॉक किया जाएगा। ये पहली बार है कि स्पेसवॉक में सभी महिला एस्ट्रोनॉट्स ही होंगी। ऐन 22 मार्च को निक हेग के साथ एक स्पेस वॉक में हिस्सा लेंगी। महिला स्पेसवॉकर्स के अलावा लीड फ्लाइट डायरेक्टर मैरी लॉरेंस और जैकी कैगी फ्लाइट कंट्रोलर होंगी।

बता दें कि नासा का कहना है कि स्पेसवॉक कई वजहों से किया जाता है, जिसमें स्पेसक्राफ्ट की मरम्मत, वैज्ञानिक प्रयोग और फिर नए उपकरणों का परीक्षण होता है। अंतरिक्ष में मौजूद बिगड़े सैटेलाइट या स्पेसक्राफ्ट को धरती पर लाने की बजाय वहीं ठीक करने के लिए स्पेसवॉक की जाती है।